Breaking News

कहीं ऐन वक्त पर भाजपा साथ न छोड़ दे योगी आदित्यनाथ

b-yogi-adityanath-will-090616192311लखनऊ. जैसे जैसे यूपी के विधान सभा चुनाव करीब आते जा रहे हैं गोरखपुर के फायर ब्रांड कद्दावर भाजपा सांसद योगी आदित्यनाथ के समर्थको की धमकियाँ भी पार्टी नेतृत्व के लिए मुसीबत बनती जा रही है. योगी समर्थक लम्बे समय से भाजपा नेतृत्व पर इस बात का दबाव बनाने में लगे हैं कि योगी को यूपी में सीएम का चेहरा घोषित कर दिया जाए.

एक अंग्रेजी अखबार की ताजा खबर के मुताबिक आदित्यनाथ ने पार्टी नेतृत्व को यह संकेत दे दिए हैं कि अगर उनकी मांगे पूरी नहीं की गई तो पार्टी के साथ रहने में दिक्कत होगी.
इसके पहले भी योगी की हिन्दू युवा वाहिनी ने “योगी नहीं तो वोट नहीं” की होर्डिंगो से पूर्वांचल को भर दिया था. योगी समर्थको का गुस्सा इस बात पर भी है कि मोदी मंत्रिमंडल में अब तक योगी को जगह नही दी गयी है . समर्थक इसे योगी का अपमान बताने से भी नहीं चूक रहे.

योगी आदित्यनाथ 1998 में पहली बार सांसद बने थे और वे अब तक अपनी सीट पर अपराजेय हैं. मगर योगी द्वारा सामानांतर संगठन हिन्दू युवा वाहिनी का सञ्चालन आरएसएस को रास नहीं आ रहा है. योगी पर वाहिनी को समाप्त करने का दवाव है मगर हिन्दू युवा वाहिनी को ख़त्म कर वे अपनी असल ताकत नहीं खोना चाहते.

फिलहाल भाजपा में योगी की इस ताजा धमकी के बाद अन्दरखाने हड़कंप मचा हुआ है.

भाजपा की रणनीति में यूपी के लिए कोई चेहरा नही पेश किया जाना है, मगर योगी समर्थको को इस बात का अंदेशा है कि चुनावो में सफलता के बाद पार्टी योगी को हाशिये पर कर देगी, इसलिए वे शीर्ष नेतृत्व पर दबाव बनाने की कोशिश जारी रखे हुए हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*