Breaking News

खली के बाद अब ये भारतीय रेसलर भी उतर सकते है WWE के रिंग में

gettyimages-485063238द ग्रेट खली के बाद अब ओलंपिक पदक विजेता पहलवान सुशील कुमार भी WWE में विदेशी रेसलरों को पछाड़ते हुए नजर आ सकते हैं।

नई दिल्ली (एजेंसी)। WWE के रिंग में द ग्रेट खली का जलवा देखने के बाद हो सकता है कि आने वाले दिनों में भारतीय खेल प्रेमियों को सुशील कुमार भी भारत का नाम रौशन करते दिख जाएं। जी हां, आपने ठीक ही पढ़ा है। ओलंपिक में दो बार देश को मेडल दिला चुके पहलवान सुशील कुमार अगले साल WWE के रिंग में उतर कर विदेशी रेसलरों को धूल चट सकते हैं।

sushil-kumar-621x414सुशील से डील कर सकता है WWE
जिस तरह से खली ने अंडरटेकर को कई बार रिंग में पीटकर उनका खौफ कम करने का काम किया था हो सकता है कि सुशील कुमार भी इसी तरह से WWE के सुपरस्टार जॉन सीना और रोमन रोन्स को पटकते नजर आएं। हिंदुस्तान टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक WWE के टैलेंट डेवलपमेंट के हेड सैनयन सीमैन की इसी सिलसिले में सुशील कुमार से मुलकात होनी है। सुशील का बिजनेस देखने वाली कंपनी सुपर स्पोर्ट्स ने कहा है कि सुशील के सामने सभी ऑप्शन खुले हैं।

WWE के लिए भारत है बड़ा मार्केट
WWE के संचालक भारत को काफी बड़े मार्केट के तौर पर देखते हैं। इस खेल को भारत में लोकप्रिय बनाने के लिए भारत में WWE के मुकबले कराने से लेकर इसकी फाइट को हिंदी में दिखाने जैसे कई कदम उठाए गए हैं। इसके अलावा भारत लगातार ऐसे पहलवान दे रहा है जो अंतररष्ट्रीय स्तर पर पहचान बना रहे हैं। WWE आगे भी से भारतीय पहलवान लेने की योजना बना रहा है।

फेडरेशन से निराश हैं सुशील
सुशील कुमार ने रियो ओलंपिक में देश की ओर से भाग न ले पाने पर निराशा जाहिर की थी। इस टूर्नामेंट के लिए रेसलिंग फेडरेशन ऑफ इंडिया की ओर से नरसिंह यादव को भेजा गया था जो डोप टेस्ट में फेल होने की वजह से एक भी मुकाबला नहीं लड़ सके थे। सुशील और यादव की कैटिगरी एक होने के बाद सुशील ने कहा था कि उनमें और यादव में मुकाबला कराकर बेहतर खिलाड़ी को ओलंपिक भेजा जाना चाहिए। जबकि नरसिंह का कहना था कि ओलंपिक कोटा उन्होंने जीता है तो वह ही ओलंपिक जाएंगे।

साबित कर चुके हैं दम-खम
33 साल के रेसलर सुशील कुमार 2008 बीजिंग ओलंपिक में कांस्य और 2012 लंदन ओलंपिक में रजत पदक जीत चुके हैं। इसके अलावा वह वर्ल्ड चैंपियनशिप में स्वर्ण और 2010, 2014 कॉमनवेल्थ गेम्स में भी स्वर्ण पदक जीत चुके हैं। साल 2009 में उन्हें देश के सर्वोच्च खेल सम्मान राजीव गांधी खेल रत्न से नवाजा गया था।

ये भारतीय रेसलर भी हैं WWE में
खली के 2014 में WWE छोड़ने के बाद कंपनी ने पिछले साल 2 भारतीय रेसलरों लवप्रीत सांघा और सतेंद्र वेदपाल को साइन किया था। इन दोनों की पहली फाइट भी दिल्ली में ही हुई थी। इससे पहले खली WWE वर्ल्ड हैवीवेट चैंपियन भी रह चुके हैं। खली का रिंग में एक समय इतना खौफ था कि कई रेसलर उन्हें देखकर ही भाग जीते थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*