दिल्ली वालों जरा बच के, इस इलाके में अब किलो के हिसाब से काटा जाएगा चालान

दिल्ली समेत देश के कई राज्यों में नया मोटर व्हीकल एक्ट-2019 (New motor vehicle act-2019) लागू होने के बाद भारी भरकम चालान के चलते वाहन चालकों की आदतों में सुधार आया है। वहीं, अब इससे सबक लेते हुए पूर्वी दिल्ली नगर निगम (East Delhi Municipal corporation) अब सड़कों और सार्वजनिक स्थलों पर अतिक्रमण को लेकर एक अभियान चलाने जा रहा है। इसके तहत सड़क पर अतिक्रमण होने पर वाहन का किलोग्राम के हिसाब से चालान काटेगा। कहने का मतलब जितने वजह की गाड़ी उतने ही वजन का चालान। जाहिर इसके नगर निगम की योजना पूरी तरह लागू हुई तो पूर्वी दिल्ली में अतिक्रमण पूरी तरह समाप्त हो जाएगा और वाहन फर्राटा भर सकेंगे।

मिनिमम 5500 है चालान

दरअसल, वर्तमान में जो व्यवस्था है उसके हिसाब से नो पार्किंग जोन अथवा सार्वजनिक स्थल पर अतिक्रमण की स्थिति में नगर निगम कम से कम 5500 रुपये का चालान तो करता ही है, फिर उसके बाद दिन के हिसाब से जुर्माना लगाता है। बता दें कि यह जुर्माना रोजाना लगने की वजह से काफी बड़ा हो जाता है। कई बार तो जुर्माना इतना ज्यादा हो जाता कि लोग अपनी गाड़ी ही ले जाने नहीं आते हैं।

अतिक्रमण पर लगेगी लगाम

गौरतलब है कि पूर्वी दिल्ली नगर निगम ने अवैध पार्किंग की समस्या को दूर करने और पूर्वी दिल्ली के इलाकों को अतिक्रमण मुक्त बनाने के लिए यह योजना बनाई है। ऐसे में निगम अधिकारियों की मानें तो कि किलोग्राम के हिसाब से अगर भारी-भरकम जुर्माना किया जाएगा तो वाहन चालक नो पार्किंग जोन (No Parking zone) में गाड़ी नहीं खड़ी करेंगे। यह प्रयोग सफल रहा तो यह पूरी दिल्ली में लागू किया जा सकता है, हालांकि इसकी पुष्टि अभी किसी ने नहीं की। यहां पर बता दें कि दिल्ली में तीन नगर निगम हैं, दक्षिणी दिल्ली नगर निगम (South Delhi Municipal corporation),  उत्तर दिल्ली नगर निगम (North Delhi Municipal corporation) और पूर्वी दिल्ली नगर निगम (East Delhi Municipal corporation) और तीनों के अपने-अपने नियम हैं। ऐसे में सहमति बनाने में दिक्कत आ सकती है।

यह है योजना

निगम की इस योजना के मुताबिक, कॉन्ट्रैक्टर दोनों जोन की पार्किंग चलाने के साथ-साथ मुख्य सड़कों पर खड़ी गाड़ियों को भी उठाएंगे। इसके बाद इन गाड़ियों का किलो के हिसाब से चालान काटा जाएगा। योजना में यह भी तय किया गया है कि चालान से जितना राजस्व मिलेगा उसका बड़ा हिस्सा एमसीडी को मिलेगा। निगम के अधिकारियों की मानें तो इस योजना के प्रभावी तरीके से लागू होने के बाद सड़कों पर अतिक्रमण और जाम की समस्या से राहत मिल सकती है।

यह भी माना जा रहा है कि पूर्वी दिल्ली के पुश्ता रोड, वजीराबाद रोड और विकास मार्ग पर इस योजना के लागू होने के बाद वाहन चालकों सड़कों पर वाहन खड़ा करने से बचेंगे, क्योंकि किलो के हिसाब से मोटा चालान कोई नहीं देना चाहेगा। उ

EDMC योजना पर कर रहा काम

निगम अधिकारियों की मानें तो खासकर मुख्य सड़कों  (Main Roads) को अतिक्रमण के चलते जाम तो लगता ही है, साथ पैदल चलने वालों को भी काफी परेशानी होती है। इससे निजात पाने के लिए EDMC की योजना बन रही है, जिसमें किलो के हिसाब से चालान काटा जाएगा।

LG की घोषणा पर नहीं हुआ अब तक अमल

गौरतलब है कि पिछले दिनों दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल (Anil Baijal) ने योजना बनाई थी कि विकास मार्ग पर नो पार्किंग जोन में गाड़ी खड़ा करने पर दोगुना जुर्माना लगेगा। यह अलग बात है कि इस पर अब तक  अमल नहीं हुआ है।

पूर्वी दिल्ली में इन स्थलों पर लगता है जाम

  • विकास मार्ग
  • वजीराबाद रोड
  • शाहदरा जीटी रोड
  • कोंडली
  • आनंद विहार-57 नंबर रोड
  • शास्त्री पार्क पुस्ता
  • सीलमपुर रोड
  • पड़पड़गंज रोड
  • जगतपुरी रोड
  • कड़कड़ी मोड़
  • कृष्णा नगर
  • गांधी नगर
  • लक्ष्मीनगर
  • झिलमिल

प्रदेश की धड़कन, 'इंडिया जंक्शन न्यूज़' के ताजा अपडेट पाने के लिए जुड़ें हमारे फेसबुक पेज से...

Check Also

रविवार को आश्विन शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा तिथि को मनाया जाएगा शरद पूर्णिमा का पर्व

सर्वार्थसिद्धि, अमृत सिद्धि व रवि योग में रविवार को शरद पूर्णिमा मनेगी। मान्यता है कि …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com