पेंशनधारियों

ईपीएस-95 पेंशनधारियों के आमरण अनशन, राउत ने जताया प्रधानमंत्री पर विश्वास

नई दिल्ली| पेंशन बढ़ाने की मांग को लेकर 60 से 80 साल के बुजुर्ग पेंशनर्स दिल्ली में ईपीएफओ कार्यालय पर मंगलवार से आमरण अनशन पर हैं। केंद्रीय श्रम एवं रोजगार मंत्री संतोष कुमार गंगवार ने बुधवार को ईपीएस-95 पेंशनधारकों के प्रतिनिधिमंडल से मुलाकात की और उन्हें हरसंभव मदद का आश्वासन दिया।

गंगवार ने बुजुर्ग पेंशनर्स से कहा कि हम आपकी मांगों को मानकर आपकी पेंशन 1,000 रुपये से बढ़ाकर 3,000 रुपये करने पर विचार कर रहे हैं। इस पर ईपीएफ राष्ट्रीय संघर्ष समिति के राष्ट्रीय अध्यक्ष अशोक राउत ने कहा कि हम तो कोशियारी समिति की सिफारिशों के तहत कम से कम 7,500 रुपये मासिक पेंशन और अंतरिम राहत के रूप में 5,000 रुपये और महंगाई भत्ते की मांग के लिए संघर्ष कर रहे है।

राउत ने बताया कि हमारे प्रतिनिधिमंडल ने श्रम मंत्री से मुलाकात की और उनके सामने यह मांग रखी कि केंद्रीय श्रम मंत्री को बुजुर्ग पेंशनर्स की मासिक पेंशन 7,500 रुपये करने का और डीए बढ़ाने का प्रस्ताव अपनी सिफारिश के साथ केंद्र सरकार को भेजना चाहिए।

कमांडर अशोक राउत ने कहा, “मेरा प्रधानमंत्री मोदी में पूरा विश्वास है कि वह निश्चित रूप से हमारी जीवन-मरण से संबंधित लंबे समय से चली आ रही पेंशन बढ़ाने की मांग को मानेंगे। जिससे हमें अपनी बाकी बची जिंदगी सम्मान के साथ गुजारने का मौका मिल सके। करीब 60 लाख ईपीएफ पेंशनर्स को रिटायरमेंट के बाद 200 से 2,500 रुपये तक पेंशन मिल रही है। बुजुर्ग पेंशनर्स अब इतनी कम पेंशन मिलने पर विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं।”

प्रदेश की धड़कन, 'इंडिया जंक्शन न्यूज़' के ताजा अपडेट पाने के लिए जुड़ें हमारे फेसबुक पेज से...

Check Also

एनडीए के लिए वोट न करे तो अपने पति को भूखा रखें: नीतीश कुमार

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मंगलवार को एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com