Breaking News

बेटे की चाहत में एक माँ ने , नवजात बेटी की हत्या कर सेफ्टी टेैंक में डाला

समस्तीपुर । उस नवजात का गुनाह बस इतना था कि वो लड़की होकर जन्मी थी जबकि उसकी मां उसकी बेटे की ख्वाहिश थी। भगवान की मेहरबानी से वो धरती पर आ तो गई लेकिन खुद उसकी ही मां ने उसे ऐसी सजा दी जिसे सुन कर किसी की भी रूह कांप जाएगी।

बिहार के समस्तीपुर से एक ऐसा ही मामला सामने आया है, जहां महज 6 दिन की बच्ची को उसी की मां ने महज इसलिये मार डाला क्योंकि उसे पहले से ही एक बेटी थी और उसे बेटा चाहिए था। मानवता को शर्मसार करने वाली घटना जिले के मुफस्सिल थाना के रानीटोल गांव का है।

मां ने निर्दयी होने की सारी सीमा को पार करते हुए महज छह दिन की मासूम बच्ची को पहले तो मार डाला फिर उसे घर में बने शौचालय की टैंक में डाल दिया ताकि किसी को कोई शक न हो। बच्ची का जन्मोत्सव यानि छठी 14 जनवरी की रात को ही मनाया जाना था।

उसके पिता और घर के सभी लोग छठी के उत्सव की तैयारी के लिए बाजार से समान लाने गये थे लेकिन जब सभी वापस लौटे और बच्ची को खोजा गया तो वह नहीं मिली।

जिस समय घर के सभी लोग बाजार गये थे उस वक्त उसकी मां पिंकी देवी घर में ही थी। शाम में जब बच्ची की दादी और पिता ने उसकी खोज की तो महिला ने यह कह कर सबको बरगला दिया कि शायद कोई जानवर उसे उठा कर ले गया होगा।

आसपास के लोग भी तीन दिन तक बच्ची की खोजबीन करते रहे लेकिन वह नहीं मिली। इस दौरान बच्ची की दादी की शंका उसकी मां पिंकी देवी पर ही हो रही थी क्योंकि छठी के दिन वो बार-बार वह शौचालय की तरफ जा रही थी।

बच्ची की दादी ने शौचालय के आसपास तलाश शुरू की तो उसे टैंक का ढक्कन थोड़ा खिसका हुआ मिला तो उसका शक और गहरा गया। इसके बाद उसने कुछ लोगों की मदद से ढक्कन हटाकर डंडे से हिलाया तो बच्ची के शव को देख सबके होश उड़ गए।

शव निकलने के बाद पिंकी घबरा गई और घर से भागने लगी लेकिन स्थानीय लोगों ने उसे घेर कर रखा। लेकिन पुलिस के मौके पर पहुंचने से पहले ही वह भाग गई।

लोगों के सामने पिंकी यह स्वीकार करती थी कि किसी ने उसकी बेटी को मार डाला लेकिन उसने खुद से बेटी को मारने से इंकार किया जबकि घर के बाकि लोगों को पूरा शक है कि पिंकी के अलावे बच्ची को कोई मार ही नही सकता क्योंकि उसे पहले से ही एक बेटी थी और इस बार उसे बेटे की चाहत थी।

बेटे की चाहत में बेटी पैदा होने के बाद से वह काफी परेशान दिख रही थी। पुलिस ने भी इस मामले को जघन्य अपराध की श्रेणी की संज्ञा देते हुए गम्भीरता से लिया है और भरोसा दिया है कि जिसने भी मासूम बच्ची की हत्या की है उसे बख्सा नही जायेगा। पुलिस भी हत्या का शक उसकी मां पर ही कर रही है जो कि मामला सामना आने के बाद से फरार है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*