Breaking News

भाजपा में शामिल हो सकती है यूपी कांग्रेस की ये कद्दवार महिला नेता

लखनऊ: यूपी में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले अपनी सियासी जमीन तलाश करने में जुटी कांग्रेस को जल्‍दी ही एक बड़ा झटका लग सकता है। सियासत की गलियों में यह बात तेजी से फ़ैल रही है कि उत्तर प्रदेश कांग्रेस पार्टी की कद्दवार महिला नेता रीता बहुगुणा जोशी बीजेपी में शामिल हो सकती हैं। इसको लेकर बीजेपी के शीर्ष नेतृत्व से बातचीत अंतिम दौर में है।

बता दें कि, रीता बहुगुणा जोशी ब्राह्मण समुदाय से हैं और पार्टी के ब्राह्मण चेहरों में सबसे आगे हैं। अगर वे पार्टी को छोड़ती हैं तो यूपी चुनाव से पहले कांग्रस के लिए ये तगड़ा झटका होगा।

ये वजह हो सकती हे 
सूत्रों की माने तो रीता बहुगुणा जोशी का यूपी विधानसभा चुनाव से ठीक पहले पार्टी बदलने की दो वजह हो सकती हैं। एक तो उनको यह भरोसा नहीं हो पा रहा है कि कांग्रेस विधानसभा चुनाव तक इस स्थिति में पहुंच ही जाएगी, जिसके सहारे चुनाव जीता जा सके। साथ ही दूसरा ये की रीता बहुगुणा जोशी वर्तमान में लखनऊ कैंट से विधायक हैं। वहीं, समाजवादी पार्टी के टिकट पर यादव परिवार से ही सपा सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव की छोटी बहु अर्पणा यादव को प्रत्याशी बनाए जाने की चर्चा हो रही है। ऐसे में लखनऊ कैंट सीट पर जीत की संभावनाएं बीजेपी के टिकट से ही बन रही है।

छोटे भाई पहले ही ज्‍वाइन कर चुकेे है बीजेपी
इसकेे अलावा रीता बहुगुणा जोशी एक बड़े सियासी परिवार से ताल्लुक रखती हैं। लेकिन जब से रीता के छोटे भाई और उत्‍तराखंड के पूर्व सीएम विजय बहुगुणा ने बीजेपी ज्‍वाइन कर लिया है। उस समय से बहुगुणा परिवार को लेकर कांग्रेस आलाकमान में विश्वास का संकट पैदा हुआ है।

कौन है रीता बहुगुणा जोशी
रीता बहुगुणा जोशी का जन्म 22 जुलाई 1949 को हुआ। रीता बहुगुणा को राजनीति विरासत में मिली है। उनके पिता हेमवती नंदन बहुगुणा उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री रह चुके हैं और उनकी मां कमला बहुगुणा सांसद रह चुकी हैं। रीता बहुगुणा जोशी इतिहास में इलाहाबाद यूनिवर्सिटी से पीएचडी हैं। रीता बहुगुणा इस वक्त उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमिटी की प्रेज़िडेंट हैं। वह 2003-2008 तक ऑल इंडिया महिला कांग्रेस की प्रेज़िडेंट रह चुकी हैं। रीता बहुगुणा ने 2 बार लोकसभा का चुनाव लड़ा लेकिन दोनों बार उन्हें हार नसीब हुई। वर्तमान में रीता लखनऊ कैंट सीट से विधायक हैं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*