माझा और दो आबा में अकाली दल का मुकाबला होगा कांग्रेस से

चंडीगढ़,  (आरएनएस)। अकाली दल की कोर कमेटी की बैठक में पंजाब के मौजूदा राजनीतिक हालात पर चर्चा की गई। अकाली दल की तरफ से पंजाब में एक लाख वोटरों पर आधारित सर्वे की रिपोर्ट पर गंभीरता के विचार गया गया। इस सर्वे रिपोर्ट में यह बात सामने आई है कि माझा और दोआबा में अकाली दल का मुकाबला कांग्रेस से होगा, जबकि मालवा में आम आदमी पार्टी से। मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल के सरकारी आवास पर हुई बैठक में फैसला लिया गया कि अकाली दल पंजाब के राजनीतिक माहौल को अपने पक्ष में करने के लिए जंगी यादगार के उद्घाटन समागम, अमृतसर के सौंदर्यीकरण के लिए किए जाने वाले प्रोर्ग्राम, पंजाबी सूबे की 50वीं वर्षगांठ के प्रोग्राम में लोगों की बड़ी स्तर पर भागीदारी करवाई जाएगी। यह फैसला भी किया गया कि मोगा में मुख्यमंत्री बादल के जन्मदिन पर बड़ा समागम किया जाएगा। बैठक में चर्चा की गई कि अकाली दल के लिए आठ महीने पहले जो राजनीतिक माहौल की चुनौतियां थीं, वह अब दूर होनी शुरू हो गई हैं। आम आदमी पार्टी का आधार पहले की अपेक्षा 10 फीसद कम आ गया है और अकाली दल का प्रभाव बढ़ रहा है। यह चर्चा भी की गई कि आप का मालवा में अब चाहे पहले जैसा प्रभाव तो नहीं है, लेकिन कई विधानसभा हलकों में आम आदमी पार्टी का हाथ अब भी ऊपर है। अकाली दल माझा में अच्छे वोट हासिल कर सकेगा और दोआबा में भी कांग्रेस को अच्छी टक्कर देगा। अकाली नेताओं ने इंडिया टुडे के चुनाव सर्वे को कांग्रेस की मिलीभगत वाला करार दिया और चर्चा की कि पंजाब में अकाली दल का प्रभाव कांग्रेस की अपेक्षा अधिक है। बैठक में मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल, उप मुख्यमंत्री और पार्टी प्रधान सुखबीर सिंह बादल, राज्यसभा मेंबर बलविंदर सिंह भूंदड़, सुखदेव सिंह ढींडसा, ग्रामीण विकास और पंचायत मंत्री सिकंदर सिंह मलूका व अकाली दल के सीनियर नेता उपस्थित थे।
00

Check Also

मिलावटी खून से कई मरीजों की गई जान !

लखनऊ। यूपी की राजधानी लखनऊ में 25 अक्टूबर को खून में मिलावट कर बेचने का …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com