Breaking News

यूपी पुलिस ने कहा नक्सली, बिहार पुलिस ने कहा अपराधी

उत्तर प्रदेश पुलिस ने नोएडा से जिन नौ लोगों को गिरफ्तार किया है उन सभी के नक्सली होने की बात साफ़ नहीं हो पायी है.

उत्तर प्रदेश पुलिस के प्रवक्ता ने गिरफ्तार हुए लोगों को संदिग्ध नक्सली बताया था जो झारखंड, बिहार और उत्तर प्रदेश के रहने वाले हैं.

उधर बिहार पुलिस के आईजी ऑपरेशंस कुंदन कृष्णन मिडिया  से बातचीत में कहा, “बिहार के रहने वाले जिन लोगों की गिरफ्तारी के बारे में उत्तर प्रदेश पुलिस ने बताया है वो ज़्यादातर अपराधी हैं. पहले किसी समय हो सकता है ये कभी किसी माओवादी संगठन से संबंधित रहे हों…..हम इसकी जांच कर रहे हैं. अब तो ये आपराधिक तत्व हैं, मुझे इसके बारे में यकीन है. “ॊ

यह गिरफ्तारियां शनिवार की रात उत्तर प्रदेश पुलिस के आतंकवाद निरोधी दस्ते (एटीएस) ने एक अपार्टमेंट से की हैं जहाँ यह लोग पिछले दो सालों से रहते आ रहे थे.

उत्तर प्रदेश पुलिस के प्रवक्ता के अनुसार झारखंड, बिहार और उत्तर प्रदेश के रहने वाले इन लोगों की शिनाख्त हो गई है.

उत्तर प्रदेश पुलिस का दावा है किके पास से काफी हथियार बरामद किए गए हैं.

पुलिस ने इन लोगों की पहचान के लिए बिहार और झारखण्ड की पुलिस से संपर्क किया था.

अभी तक जो जानकारियां सामने आयीं हैं उनके मुताबिक़ गिरफ्तार किए गए सिर्फ एक व्यक्ति के बारे में बताया गया है कि वो झारखण्ड के लातेहार ज़िले का रहने वाला है.

उसकी गिरफ्तारी के लिए झारखण्ड की पुलिस ने पांच लाख रूपए का इनाम भी रखा था. उस संदिग्ध के बारे में उत्तर प्रदेश की पुलिस का कहना है कि वो नक्सली एरिया कमांडर रह चुका है.

मगर अभी तक यह स्पष्ट नहीं हो पाया है कि उसका सम्बंध किस नक्सली गुट से रहा है क्योंकि लातेहार के इलाक़े में भारत की कम्युनिस्ट पार्टी (माओवादी) के अलावा उससे टूटकर अलग हुए कई अन्य धड़े भी काफी सक्रिय हैं.

इनमें पीपुल्स लिबरेशन फ्रंट आफ इंडिया यानी पीएलएफआई, झारखण्ड लिबरेशन टाइगर्स (जेएलटी) आदि भूमिगत संगठन शामिल हैं.

उत्तर प्रदेश पुलिस के प्रवक्ता राहुल श्रीवास्तव का कहना है कि नोएडा से गिरफ्तार किये गए लोगों से पूछताछ के बाद फिलहाल एटीएस की टीम वाराणासी में भी अभियान चला रही है.

पुलिस प्रवक्ता ने दावा किया कि पकड़े गए लोगों में से एक, बम बनाने में माहिर है और ये भी कहा है कि ये संदिग्ध नोएडा के आसपास लूट और अपहरण जैसे अपराध करने की तैयारी भी कर रहे थे.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*