Breaking News

राहुल गांधी से राजनीति में आगे निकले अखिलेश

देश की राजनीति में पहली बार दो दिग्गज पार्टियों के युवा चेहरे एक साथ आने जा रहे हैं. उत्तर प्रदेश में गठबंधन बनाने वाली समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश और कांग्रेस के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष राहुल गांधी पहली बार रविवार को साथ दिखाई देंगे. राजधानी लखनऊ में अखिलेश और राहुल की संयुक्त प्रेस वार्ता है, इसके बाद ये रोड शो भी करेंगे.

चाहे स्वभाव की बात कर लें या राजनीति की, सभी मामलों में दोनों का व्यक्तित्व एक दूसरे से जुदा है. ऐसे में ये देखना दिलचस्प होगा कि भविष्य में दोनों नेता एक दूसरे के साथ कितनी दूर तक जाते हैं. न्यूज 18 ने दोनों ही नेताओं की उनकी राजनीतिक कॅरियर के आधार पर तुलना की तो कई अहम तथ्य सामने आए.

वैसे तो उम्र में अखिलेश राहुल से करीब तीन साल छोटे हैं लेकिन राजनीतिक उपलब्धियों की बात करें तो अखिलेश राहुल की तुलना में कहीं आगे निकलते दिख रहे हैं.

एक तरफ अखिलेश हैं, जहां उत्तर प्रदेश के सबसे कम उम्र के सीएम हैं. यही नहीं पहली बार पार्टी का नेतृत्व कर उसे यूपी की सत्ता तक पहुंचाने का श्रेय भी उन्हीं को जाता है. अब अखिलेश पूरी तरह से समाजवादी पार्टी में मुखिया के तौर पर स्थापित हो चुके हैं.

वहीं दूसरी तरफ राहुल गांधी लगातार कई बार अमेठी से सांसद रहे हैं, संगठन को उबारने की वह लगातार कोशिश भी करते रहते हैं. राष्ट्रीय पार्टी होने के नाते उनका दखल कई प्रदेशों में रहा है लेकिन पार्टी का प्रदर्शन साल दर साल गिरना उनके लिए लगातार चिंता का सबब बना हुआ है.

अखिलेश से उम्र में तीन साल बड़े हैं राहुल

राहुल गांधी का जन्म 1970 में जन्म हुआ, जबकि अखिलेश का 1973 में.

जहां राहुल काफी रिजर्व स्वभाव के हैं और ज्यादा लोगों से नहीं मिलते.

वहीं अखिलेश अपने पिता मुलायम की तरह ही सामाजिक हैं और ज्यादा से ज्यादा लोगों से मिलते हैं.

राहुल जल्दी अपनी बात सार्वजनिक तौर पर नहीं रखते.

अखिलेश माहौल और समय के हिसाब से अपनी बात रखते हैं.

राजनीति में राहुल से सीनियर हैं अखिलेश

राहुल पहली बार 2004 में अमेठी से लोकसभा चुनाव जीतकर संसद पहुंचे. इसके बाद राहुल लगातार 2009 और 2014 में भी अमेठी से ही कांग्रेस की तरफ से लोकसभा में सांसद हैं.

अखिलेश पहली बार 2000 में कन्नौज से लोकसभा चुनाव जीतकर संसद पहुंचे. इसके बाद उन्होंने 2004 और 2009 में भी लोकसभा में सदस्य रहे.

2012 में अखिलेश समाजवादी पार्टी के उत्तर प्रदेश अध्यक्ष बन गए.

2007 में राहुल गांधी कांग्रेस की यूथ विंग के अध्यक्ष बने.

अखिलेश 38 वर्ष की उम्र में यूपी के सीएम बनने वाले पहले शख्स बने.

राहुल के पास ऐसी कोई विशेष उपलब्धि नहीं है.

अखिलेश ने हाल ही में सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष की कुर्सी पर कब्जा जमाया.

राहुल गांधी कई साल से कांग्रेस उपाध्यक्ष हैं.

संघर्ष का दौर

राहुल गांधी लगातार कई लोकसभा, विधानसभा चुनावों में पार्टी के बेहतर प्रदर्शन के लिए कोशिशें कर चुके हैं. लेकिन काफी कोशिश के बाद भी संगठन को उबार नहीं सके.

अखिलेश ने पहली बार उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनावों के लिए 2012 में चुनाव अभियान का नेतृत्व किया और पार्टी को भारी जीत दिलाई.

कांग्रेस का प्रदर्शन बेहतर नहीं हो पाने की वजह से राहुल के नेतृत्व पर कई सवाल उठते रहे हैं.

अखिलेश के नेतृत्व पर कोई सवाल नहीं उठाता.

राजनीतिक तौर पर राहुल गांधी छापामार कार्रवाई में विश्वास करते हैं. चाहे दलितों से जुड़ा मामला हो या कोई प्रदर्शन, वह कब कहां पहुंच जाएं इसका अंदाजा कोई नहीं लगा सकता.

अखिलेश के साथ ऐसा नहीं है, वह पूरी प्लानिंग से मैदान में उतरते हैं. 2007 से 2012 तक बसपा सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन में अखिलेश यादव ने साइकिल यात्रा से लेकर दर्जनों रैलियां कीं.

बयानबाजी को लेकर राहुल गांधी कई बार विवादों में घिर चुके हैं.

अखिलेश सधी हुई बयानबाजी करते हैं, जिसके कारण अभी तक उनके साथ कोई विवाद नहीं जुड़ा है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*