Breaking News

राहुल से वीके सिंह का सवाल, क्‍या 1971 में इंदिरा गांधी ने भी खून की दलाली की थी

लखनऊ. विदेश राज्य मंत्री जनरल वीके सिंह ने राहुल गांधी के ‘खून की दलाली’ वाले बयान को घटिया मानसिकता वाला करार दिया है। उन्होंने राहुल से सवाल किया, ‘क्या इंदिरा गांधी ने भी भारत-पाक जंग के वक्त 1971 में खून की दलाली की थी? अगर राहुल ये सोचते हैं कि इस तरह के घटिया बयान देकर वे राजनीति में ऊपर जाएंगे तो ऐसा नहीं है। वे और नीचे ही जाएंगे।’ ‘
राष्‍ट्रवाद की बात करने वालों को बीजेपी वाला बता दिया जाता है
– राजधानी में एक प्रोग्राम में शिरकत करने पहुंचे सिंह ने मीडिया से बातचीत के दौरान कहा, ‘यह बड़ी अजीब बात है कि जो राष्ट्रवाद की बात करते हैं, उन्हें बीजेपी वाला बता दिया जाता है। जो राष्ट्र के खिलाफ बात करें, वे सेक्युलर हो जाते हैं।’
– ‘इतिहास गवाह है कि हमारे अंदर के लोगों ने दगा दिया है, तभी बाहरी आए हैं।’
– पाकिस्तान की हरकतों के सवाल पर उन्‍होंने कहा कि हमें और सावधान रहने की जरूरत है।
पीएम को कहना पड़ रहा साफ-सफाई के लिए
– वीके सिंह ने आगे कहा, ‘हमने 1947 से ही नागरिक जिम्मेदारियों की ओर ध्यान नहीं दिया।’
– ‘अब ये स्थिति आ गई है कि पीएम को सफाई के लिए कहना पड़ता है। हमारे ही लोग विदेश जाते हैं तो उन्हें (साफ-सफाई के लिए) कुछ कहना नहीं पड़ता है।’
– ‘अमेरिका से भी कुछ मायनों में सीखने की जरूरत है। वहां सैनिकों के प्रति सम्मान है और हर आदमी अपने घर पर राष्ट्रध्वज लगाता है।’
राहुल ने क्‍या दिया था बयान?
– राहुल गांधी ने सर्जिकल स्ट्राइक को लेकर मोदी के खिलाफ बयान दिया था। यूपी में 26 दिन चली किसान यात्रा खत्म होने के बाद दिल्ली पहुंचे राहुल ने कहा था, “जो हमारे जवान हैं। जिन्होंने अपना खून दिया है जम्मू-कश्मीर में। जिन्होंने हिंदुस्तान के लिए सर्जिकल स्ट्राइक किया है। उनके खून के पीछे आप छुपे हुए हो। उनकी आप दलाली कर रहे हो। ये बिल्कुल गलत है। हिंदुस्तान की सेना ने हिंदुस्तान का काम किया है। आप अपना काम कीजिए।”
– बता दें, राहुल ने इस बयान के कुछ ही दिन पहले सर्जिकल स्ट्राइक पर मोदी की तारीफ की थी। उन्होंने कहा था कि मोदी ने ढाई साल में पहली बार पीएम जैसा काम किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*