Breaking News

क्या हुआ जब लड़की ने सिपाही पर दनादना एक के बाद एक जड़े पांच तमाचे

जबलपुर। ‘मेरी मां और भाई को हाथ लगाने की तुम्हारी हिम्मत कैसे हुई। तुम जानते नहीं हमें, दो मिनट में सारी पुलिसगिरी निकल जाएगी।’ ये कहते हुए एक युवती आव देखा न ताव और एक सिपाही पर दनादना एक के बाद एक पांच तमाचे जड़ दिए। इससे पुलिसकर्मी एक पल को तो सकते में आ गया, फिर खुद को संभालते हुए युवती को पकड़ लिया। यह किसी फिल्म की शूटिंग का दृश्य नहीं, बल्कि शुक्रवार रात सदर चौपाटी में हुई एक घटना का नजारा था। घटना के दौरान मौके पर बड़ी संख्या में तमाशबीनों की भीड़ जुट गई। कई लोगों ने पूरे घटनाक्रम का वीडियो भी अपने मोबाइल में बनाया। तकरीबन 15 मिनट तक चौपाटी में दुकान लगाने वाले परिवार और पुलिसकर्मी के बीच हाथापाई होती रही। इसके बाद पुलिसकर्मी ने थाने से स्टाफ बुलाकर महिला उसके बेटे और बेटी को थाने ले गई। तीनों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है।

यह है मामला

शुक्रवार रात तकरीबन 11.30 बजे कैंट पुलिस सदर की चौपाटी की दुकानें बंद करा रही थी। पुलिसकर्मी क्षेत्र के दुकानदारों को दुकान बंद करने के लिए बोलते हुए आगे बढ़ रहे थे कि तभी उन्होंने देखा कि बिना नंबर की एक बाइक सड़क किनारे खड़ी है। जिसके बारे में पतासाजी की गई, लेकिन कोई भी वाहन के पास नहीं पहुंचा। वाहन संदिग्ध लगने पर पुलिस वाहन को थाने ले जाने लगी। इसी दौरान चौपाटी में दुकान लगाने वाला अनुज लांबा और उसकी मां वहां पहुंचे। मां-बेटों ने बाइक ले जाने का विरोध शुरू कर दिया। इस पर पुलिसकर्मी ने उन्हें समझाते हुए कहा कि बाइक के कागजात दिखा दो तो वाहन छोड़ दूंगा।

लेकिन परिवार नहीं माना तो पुलिसकर्मी अनुज को साथ में ले जाने लगा। यह देख उसकी मां पुलिस से उलझ गई। उसने बेटी को फोन पर सूचना दी। जिसके बाद उसकी बेटी ने आते ही पुलिस के साथ कहासुनी करने के बाद सिपाही पर थप्पड़ बरसाने शुरू कर दिए। यह देख आसपास के लोग हैरान रह गए।
पांच थप्पड़ मारे हैं नहीं छोड़ूगा एक सिपाही ने आरोप लगाया कि उसे महिला की बेटी ने आते से ही पांच थप्पड़ मारे हैं। इन तीनों को नहीं छूटना चाहिए। इसके बाद मामले को शांत करने के लिए एक सिपाही भी आया। तीनों को थाने ले जाया गया। लेकिन थाने में भी हंगामा चलता रहा।

मां के पीछे है अनुज

अनुज अपनी मां के पीछे था, जिसे पुलिस पकड़कर खींच रही थी। साथ ही उसे छुड़ाने के लिए थप्पड़ भी मारे। लेकिन उसकी मां बीच में आ जाती थी, जिसके बाद पुलिस छोड़ देती थी। लावारिस बाइक सड़क पर खड़ी थी, जिसे उठाने के लिए कार्रवाई कर रहे थे। तभी एक महिला उसके बेटे और बेटी ने पुलिसकर्मियों के साथ अभद्रता कर मारपीट की है।

-मंजीत सिंह, कैंट टीआई

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*