Breaking News

सपा ने बनाया शिवपाल को बलि का बकरा: मायावती

लखनऊ. मायावती ने शनिवार को यहां प्रेस कॉन्‍फ्रेंस कर कहा, ‘सपा के 5 साल के और मोदी के ढाई साल के कार्यकाल के दौरान दोनों ही सरकारों ने गरीबों, दलितों, पिछड़ों और किसान विरोधी नीतियों को अपनाने का काम किया है। प्रदेश की लगभग 22 करोड़ जनता में गुस्‍सा है। यही वजह है कि बीजेपी यूपी में अपना सीएम कैंडिडेट का चेहरा नहीं ला पा रही है। अखिलेश शुरू से ही अपनी सरकार में कानून व्‍यवस्‍था के मामले में दागी चेहरा रहे हैं। अब जनता को तय करना है कि दागी चेहरे को वो अपना वोट देंगे या फिर ऐसे जंगलराज को खत्‍म वाली बसपा को वोट देंगे। इसका सही फैसला जनता को इस चुनाव में करना होगा।’

– मायावती ने आगे कहा, ‘प्रदेश की सपा सरकार में शुरू से ही अराजक, अपराधी और भ्रष्‍ट वाली हुकूमत रही है। अब तक प्रदेश में 500 छोटे-बड़े दंगे हुए हैं।’

– ‘कांग्रेस ने पहले शीला दीक्षित को सीएम कैंडिडेट के रूप में पेश किया, लेकिन सपा से गठबंधन करने के लिए अखिलेश यादव जो एक दागी चेहरा है, उस पर हामी भर दी।’

– ‘ये तो जाहिर है कि बिहार में नीतीश कुमार ने कांग्रेस की नैय्या को पार लगा दिया था, लेकिन अब ये सवाल उठने लगा है कि प्रदेश की जनता को इन सरकारों को क्‍या जवाब देगी।’

– ‘अखिलेश बीजेपी नेताओं को बचाने का दोषी है। इसीलिए वो आरोपी फिर चुनाव में उतर रहे हैं। यूपी की जनता को इनकी आंख खोलनी चाहिए।’

– ‘बसपा को रोकने के लिए विरोधी पार्टियां मिलीभगत कर चुनाव लड़ना चाहती हैं।’

जनता सिखाएगी सबक

– मायावती ने कहा, ‘5 साल से त्रस्‍त प्रदेश की जनता को सपा को वोट नहीं देना चाहिए। सपा के पूर्व प्रमुख मुलायम सिंह के चलते शिवपाल यादव बलि का बकरा बन गए।’

– ‘शिवपाल को जनता की नजरों में पूरी तरह से गिराने की कोशिश की गई है। जनता अखिलेश खेमे को सबक सिखाएगी। इनका बेस वोट भी दो खेमों में बंटकर रह जाएगा।’

– ‘सपा को जो वोट देता है, उसका वोट खराब होगा और इसका फायदा बीजेपी को पहुंचेगा। बीजेपी को रोकने के लिए अल्‍पसंख्‍यकों को बसपा को वोट देना चाहिए। बसपा का वोट इधर-उधर जाने वाला नहीं है।’

– अगर बीजेपी की यूपी में सरकार बन गई तो ये लोग आरक्षण को खत्‍म कर देंगे। इसे बचाने के लिए बसपा को वोट देना है।

– हमारी पार्टी सभी के हितों का ध्‍यान रखती है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*