सीएम नीतीश ने कहा-बिहार में बदलाव आया है और आएगा

मुजफ्फरपुर । निश्चय यात्रा के तहत मुख्यमंत्री नीतीश कुमार बुधवार देर शाम पूर्वी चंपारण के जिला मुख्यालय मोतिहारी पहुंचे। मुख्यमंत्री जिला मुख्यालय स्थित जिला स्कूल मैदान में जनचेतना सभा को संबोधित कर रहे हैं। उन्होंने सभा को संबोधित करते हुए कहा कि हर अच्छे काम का विरोध होता है। ऐसे ही बिहार में शराबबंदी का लगातार विरोध हो रहा है।
उन्होंने कहा कि निश्चय यात्रा का विरोध करने वाले लोग मानसिक विकृति के शिकार हैं। बिहार शराबबंदी लागू करने वाला उदाहरण पेश करेगा। शराबबंदी लागू है और लागू रहेगा। सात निश्चय जन-जन का निश्चय है। शराबबंदी से बहुत बड़ा सामाजिक परिवर्तन आया है। अब पत्नियां कहती हैं कि जो पति शराब पीकर आता था पीटता था उससे डर लगता था आज वही पति सुंदर लगता है।
नीतीश ने कहा कि शराबबंदी से बिहार में अपराध में कमी आई है, सुख शांति में बढ़ोत्तरी हुई है। लोग खुश हैं। लेकिन विरोधी इसको लेकर हंगामा मचाते रहे हैं, लेकिन जब जनता शराबबंदी के साथ है तो फिर जिसको जो कहना हो करे।
गुरुवार को मुख्यमंत्री हेलीकॉप्टर से पताही प्रखंड की परसौनी कपूर पंचायत पहुंचे। वहां उन्होंने विकास कार्यों का जायजा लिया। इसके बाद वे अरेराज जाकर नगर क्षेत्र में योजनाओं की पड़ताल की।
अरेराज से लौटकर संबोधित करेंगे। इसके बाद लोक शिकायत निवारण कार्यालय का निरीक्षण व अधिकारियों के साथ बैठक करेंगे। देर शाम मुजफ्फरपुर के लिए रवाना होंगे।
पढ़ें : नोट बंद होने से पर्यटक परेशान, बोधगया में रुपये देकर डॉलर खरीद रहे विदेशी
मोतिहारी में की व्यवसायियों से मुलाकात
निश्चय यात्रा के दूसरे दिन पूर्वी चंपारण पहुंचे मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने यात्रा पर निकलने से पहले मोतिहारी परिसदन में मोतिहारी चैंबर ऑफ कामर्स के अधिकारियों से मुलाकात की। इस दौरान उन्होंने व्यवसायियों की समस्याएं जानी और जिले की स्थिति के बारे में सभी लोगों से विस्तार से चर्चा की। इस दौरान व्यवसायियों ने सबसे पहले मुख्यमंत्री को सूबे में सड़क की स्थिति व शराबबंदी के लिए बधाई दी।
सीएम से मिलकर बाहर निकले चैंबर के संस्थापक अध्यक्ष विरेन्द्र जालान ने बताया कि सीएम को सूबे में शराबबंदी व पांच घंटे में हर जिले को राजधानी से जोड़ने के लिए बेहतर सड़क बनाने के लिए व्यवसायियों की ओर से बधाई दी गई। मुख्यमंत्री को इस बात से अवगत कराया गया कि यहां शिक्षा व कानून-व्यवस्था की स्थिति बेहद खराब है। इसके कारण पूरे देश में बिहार की छवि खराब हो रही है। इसमें समय रहते अपेक्षित सुधार आवश्यक है।
व्यवसायियों ने मुख्यमंत्री को कहा कि जिस तरह से जिले ही नहीं बल्कि पूरे प्रदेश में रंगदारी, अपहरण व बम विस्फोट के साथ हत्या की घटनाएं हो रही हैं, उससे पुराने दिनों की याद ताजा हो जाती है। इस स्थिति में जरूरी है कि कानून-व्यवस्था को ठीक किया जाए। शराबबंदी के बाद नशाखोरी में अपेक्षित गिरावट तो दर्ज की गई है। लेकिन, मोतिहारी में नशा के नए केंद्र स्थापित हो गए हैं। जहां युवक ड्रग्स व नशे की सूई लेते हैं।
कहा, हमें केंद्र व राज्य के झगड़े में नहीं फंसकर इसे पर्यटन स्थल के तौर पर विकसित करने की जरूरत है। मुख्यमंत्री जी इस पर ध्यान दे दिया जाए तो शहर का कायाकल्प हो जाएगा। व्यवसायियों ने सीएम से आग्रह किया कि जो फीड बैक उन्हें अधिकारी व राजनेता देते हैं, वे पर्याप्त नहीं हैं। इसके लिए व्यवसायी व सामाजिक संगठनों के साथ बैठक जरूरी है।

प्रदेश की धड़कन, 'इंडिया जंक्शन न्यूज़' के ताजा अपडेट पाने के लिए जुड़ें हमारे फेसबुक पेज से...

Check Also

चौटाला परिवार को फिर एक करने के अधूरे सपने संग विदा हो गईं स्‍नेहलता, अंतिम संस्‍कार थोड़ी देर में

पूर्व मुख्यमंत्री ओमप्रकाश चौटाला की पत्नी स्नेहलता चौटाला परिवार को फिर एक करने का अधूरा …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com