Breaking News

हम राज्य परिवहन पर रोक लगा देंगे अगर सीएनजी लागू नहीं किया तो

नई दिल्ली. राष्ट्रीय हरित अधिकरण (एनजीटी) ने चार उत्तरी राज्यों को चेतावनी दी कि अगर वे सीएनजी को लागू नहीं करते हैं तो राज्य परिवहन को रोक दिया जाएगा। अधिकरण ने कहा कि हवा में मिले ज्यादातर पार्टिकुलेट मैटर जो दिल्लीवासी सांस के जरिए ग्रहण करते हैं, वो वहां से निकलते हैं।
अधिकरण के अध्यक्ष न्यायमूर्ति स्वतंत्र कुमार ने कहा, अपने क्षेत्रों में सीएनजी स्टेशनों को स्थापित करने के संबंध में आपने क्या किया है। आप इस बारे में क्या कर रहे हैं। हमने आपकरे इस मुद्दे पर अपना जवाब सौंपने का निर्देश दिया था। आपने इसपर क्या किया। पीठ ने कहा मुझसे कहा जा रहा है कि दिल्ली में सूक्ष्म पार्टिकुलेट मैटर से होने वाला 50 फीसदी से अधिक प्रदूषण का उद्गम पड़ोसी राज्य हैं। दिल्ली में हवा की गुणवत्ता बदतर होती जा रही है। आपको अपने राज्यों में सीएनजी स्टेशनों को स्थापित करने के लिए हर कदम उठाना चाहिए। अगर आप अपने राज्य में सीएनजी नहीं लागू करते हैं तो हम आपके राज्य परिवहन को रोक देंगे।
राष्ट्रीय राजधानी में हवा की गुणवत्ता में गिरावट पर वद्र्धमान कौशिक द्वारा दायर मामले पर सुनवाई करते हुए पीठ ने यह टिप्पणी की। अधिकरण ने हरियाणा, पंजाब, राजस्थान और उत्तर प्रदेश के अलावा पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस नियामक बोर्ड के वरिष्ठ अधिकारियों को निर्देश दिया कि वे उसके समक्ष मामले की अगली सुनवाई की तारीख 19 अक्तूबर को उपस्थित हों। अधिकरण ने सितंबर में उत्तर प्रदेश और हरियाणा सरकार से एनसीआर में सीएनजी स्टेशन स्थापित करने की संभावना पर विचार करने का निर्देश दिया था। पीठ ने इन क्षेत्रों में 10 साल से अधिक पुराने डीजल वाहनों को चलाने की अनुमति देने से इंकार कर दिया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*