मोदी

54 वर्ष बनाम 54 महीने  नरेन्द्र मोदी बनाम कांग्रेस : नरेन्द्र सिंह राणा

केवल नाम के सहारे क्या मिला भारत को एक परिवार के प्रधानमंत्री बस अब देश का काम के आधार पर चल रहा है यानि कर्मवीर मोदी जी देश के प्रधानमंत्री है जो कडी मेहनत व ईमानदारी से देश को आगे बढा रहे हैं। भारत को आजादी मिले तो 71 वर्ष हो चुके है लेकिन इन वर्षो में देश ने क्या खोया क्या पाया इस पर विचार करे तो पता चलता है कि 1945 में जिस अमेरिका ने जापान पर परमाणु बम गिराकर उसको तबाह कर दिया था।

ये भी पढ़े- लखनऊ में विपक्षी नेता भी बताएं कि उनकी सरकारों में मंदिर आने वाले श्रद्धालुओं की सुविधाओं पर कितना पैसा खर्च किया गया

मात्र 2 वर्ष का अन्तर है जापान की बर्बादी में और हमारी आजादी में। जापान आज दुनिया की तीसरी आर्थिक महाशक्ति है और भारत मात्र एक विकासशील देश बन कर रह गया था। ऐसा क्यों हैं। कौन-कौन से कारण इसके लिए जिम्मेदार है। यह देश को जानना चाहिए। हमारे देश पर लगभग 54 वर्षो तक एक ही पार्टी एक ही परिवार का शासन रहा वह है कांग्रेस पार्टी तथा गांधी परिवार का जवाहर लाल नेहरू 15 अगस्त 1947 से से 27 मई 1964 तक देश के प्रधानमंत्री रहे, उनकी पुत्री इन्दिरागंधी 1966 से 1977 तक तथा 1980 से 1984 तक लगभग 15 वर्ष तक प्रधानमंत्री रही उनके बाद उनके पुत्र राजीव गांधी 1984 से 1989तक 5 वर्ष भारत के प्रधानमंत्री रहे।
10 वर्ष तक 2004 से 2014 तक मनमोहन सिंह कांग्रेस सरकार के प्रधानमंत्री रहे तब कि 10 जनपथ की ताकत 7 रेसकोर्स को अपने ईशारे पर नचाती थी। राहुल गांधी जी कैबिनेट नोट तक को सार्वजनिक फाडकर फेंक देते थे। तत्कालीन प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह जी 10 वर्षो तक डरे-डरे से दिखे हो भी क्यों ना हमारे देशवासी इस सच्चाई को जानते हैं नेहरू जी के जमाने से भ्रष्टाचार की हुई शुरूवात मनमोहन सिंह तक इतनी विशाल हो चुकी थी कि हिमालय का कद भी छोटा लगने लगा था।

ये भी पढ़े- सीएम योगी आदित्यानाथ के खिलाफ मुकदमा लड़ रहे परवेज की पत्नी ने परिवार को झूठे मामले में फंसाने की जताई आशंका, सुरक्षा की लगाई गोहार

विपक्ष, सर्वोच्च न्यायलय लगातार सरकार के घपले घोटालो को उजागर करते रहे। देश की जनता की गाढी कमाई को विदेशी बैंको में पहुॅचा दिया गया। लाखों से शुरूवात हुई लूट खरबों में पहुॅच गई। देश-विदेश में लूट के धन की कहानियांे से अखबार भरे पडे थे। देश के विकास के नाम पर खुद की लूट में मस्त थे। राजीव गांधी को यह कहना पड़ा था कि गरीब- किसानों के नाम पर दिल्ली से भेज गया पैसा 85 प्रतिशत भ्रष्टाचार की भेट चढता है।
एक नजर डाले तो पूर्व प्रधानमंत्री नेहरू, इन्दिरा, राजीव व मनमोहन सिंह के जमाने में देश को विरासत में मिले घपले घोटाले जो सामने आये बाकि जो सामने नहीं आ पाये उनकी भगवान जाने। नेहरू राज में आजादी के तुरन्त बाद 1948 में जीप घोटाला सामने आया, कम्पनी कंलिग ट्यूबस, बीमा घोटाला, तनसी भूमि घोटाला, बिटूमैन घोटाल, सुरक्षा घोटाला, जेएमएम घूस कांड, सेंट किटस घोटाला, यूरिया घोटाला, सीआरबी घोटाला, अनंतनाग ट्रास्पोर्ट घोटाला, 1971 नागर वाला घोटाला, चारा घोटाला, चुरहट लाटरी कांण्ड घोटाला, बोर्फोस घोटाला,
पशुपालन घोटाला, बाम्बे स्टाक एक्सचेज फांड घोटाला, हवाला काण्ड बैगलोर घोटाला, मैसूर घोटाला, सुखराम घोटाला, बिहार चारा घोटाला, तहलका घोटाला, यूटीआई घोटाला, ताज काडिडोर घोटाला, करवी घोटाला, डीएसक्यू साफ्वेयर घोटाला, आई पी ओ  हामून ट्रैफिकिंग स्केम (बाबू भाई कटारा) वोट के बदले नोट घोटाला, सत्यम घोटाला, 2जी  स्पेक्ट्र घोटाला, मधु कोड़ा मनी लाडरिंग (4000 करोड़) नरेगा घोटाला, राष्ट्र मंडल खेल घोटाला, आर्दश सोसाइटी घोटाला , कोयला घोटाला आदि ।

ये भी पढ़े- घुसपैठियों को लेकर सरकार का अंतिम फैसला, खत्म कर देंगे देश से नाम-निशान

बदलना तय है हर चीज का संसार मे बस थोड़ा इंतजार करना पड़ता है। किसी का दिल बदल जाता है किसी के दिन बदल जाते है। बड़ा  आदमी बनाना अच्छी बात है लेकिन अच्छा आदमी बनाना बड़ी बात है। प्रसन्न व्यक्ति वह है जो निरन्तर अपना मूल्याकंन करता है और दुःखी व्यक्ति वह है वह जो सदैव दूसरो का मूल्याकंन करता है। यदि दिमाग के दरवाजे बंद है तो आंखों का खुला होना कोई मायने नहीं रखता। कुछ इन्सानों को अलार्म जगाता है तो कुछ को जिम्मेदारियों जगाती है। घड़ी ठीक करने वाले तो बहुत है मगर समय तो मेरा मुरलीवाला ही ठीक करता है। आंखे तालाब नहीं फिर भी भर आती है, दुश्मनी बीज नहीं फिर भी बोयी जाती है।
होठ कपड़ा नहीं फिर भी सिल जाते है, किस्मत सखी नहीं फिर भी रूठ जाती है, आत्मसम्मान शरीर नही फिर भी घायल हो जाता है और सभी लोग आपके लिए अच्छे है बस शर्त इतनी सी है कि आपके दिन अच्छे होने चाहिए। शब्द मुफ्त में मिलते है लेकिन उनके चयन पर निर्भर करता है कि कीमत मिलेगी या चुकानी पडे़गी। सत्य को कहने के लिए किसी शपथ की जरूरत नही होती, नदियों को बहने के लिए किसी पथ की जरूरत नहीं होती, जो बढते है जमाने मे अपने मजबूत इरादों के बल पर उन्हें अपनी मंजिल पाने के लिए किसी रथ की जरूरत नहीं होती।

ये भी पढ़े- मायावती ने कांग्रेस को लेकर महागठबंधन पर किया बड़ा एेलान, मचा हड़कंप

उनके शब्द दिल को छू जाते है और तुम्हारे शब्द दिल को छेद जाते है। आदमी साधनों से नहीं साधना से महान होता है, भवनो से नहीं भावना से महान बनता है, उच्चारण से नहीं उच्च आचरण से महान बनता है। शब्द महकते है तो लगाव करते है और बहकते है तो घाव करते है। 54 वर्ष के बाद अब मोदी जी के 54 महीने में देश ने करवट बदली है। विकास की राह पकडी है।
मोदी सरकार की प्रमुख योजनाएं प्रधानमंत्री जन धन योजना, प्रधानमंत्री आवास योजना, प्रधानमंत्री सुकन्या समृद्धि योजना, प्रधानमंत्री मुद्रा योजना, प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना, प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना,अटल पेंशन योजना, सांसद आदर्श ग्राम योजना, प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना, प्रधानमंत्री ग्राम सिंचाई योजना, प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजनाये, प्रधानमंत्री जन औषधि योजना, प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना, मेक इन इंडिया, स्वच्छ भारत अभियान, किसान विकास पत्र, सॉइल हेल्थ कार्ड स्कीम,  डिजिटल इंडिया,  स्किल इंडिया, बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ योजना, मिशन इन्द्रधनुष, दीन दयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना, दीन दयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल्या योजना,  पंडित दीनदयाल उपाध्याय श्रमेव जयते योजना, अटल मिशन फॉर रेजुवेनशन एंड अर्बन ट्रांसफॉर्मेशन(अमृत योजना)

ये भी पढ़े- लखनऊ में अब 30 दिन में पास कराए मकान का नक्शा, बिल्डिंग बाइलॉज में हुआ संशोधन

स्वदेश दर्शन योजना पिल्ग्रिमेज रेजुवेनशन एंड स्पिरिचुअल ऑग्मेंटशन ड्राइव (प्रसाद योजना) नेशनल हेरिटेज सिटी डेवलपमेंट एंड ऑग्मेंटशन योजना (ह्रदय योजना), उड़ान स्कीम, नेशनल बाल स्वछता मिशन, वन रैंक वन पेंशन (व्त्व्च्) स्कीम, स्मार्ट सिटी मिशन, गोल्ड मोनेटाईजेशन स्कीम, स्टार्टअप इंडिया, स्टैन्डप इंडिया, डिजिलोकर, इंटीग्रेटेड पावर डेवलपमेंट स्कीम, श्यामा प्रसाद मुखर्जी अर्बन मिशन, सागरमाला प्रोजेक्ट, ‘प्रकाश पथ’ दृ ‘वे टू लाइट, उज्वल डिस्कॉम असुरन्स योजना, विकल्प स्कीम,
नेशनल स्पोर्ट्स टैलेंट सर्च स्कीम, राष्ट्रीय गोकुल मिशन, पहल दृ डायरेक्ट बेनिफिट्स ट्रांसफर फॉर स्च्ळ (क्ठज्स्) कन्जूमर स्कीम, नेशनल इंस्टीटूशन फॉर ट्रांसफॉर्मिंग इंडिया (नीति आयोग), प्रधानमंत्री खनिज क्षेत्र कल्याण योजना, नमामि गंगे प्रोजेक्ट, सेतु भारतं प्रोजेक्ट, रियल एस्टेट बिल, आधार बिल, क्लीन माय कोच, राष्ट्रीय ग्राम स्वराज अभियानदृ प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना, प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना, उन्नत भारत अभियान, टी बी मिशन 2020, धनलक्ष्मी योजना। नेशनल अप्रेंटिसशिप प्रमोशन स्कीम।

ये भी पढ़े- बीजेपी नेता ने अमित शाह को लिखा पत्र, लखनऊ से मांगा लोकसभा टिकट

गंगाजल डिलीवरी स्कीम। प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान। विद्यांजलि योजना।. स्टैंड अप इंडिया लोन स्कीम,. ग्राम उदय से भारत उदय अभियान, सामाजिक अधिकारिता शिविर, रेलवे यात्री बीमा योजना, स्मार्ट गंगा सिटी, मिशन भागीरथ (तेलंगाना में) विद्यालक्ष्मी लोन स्कीम, स्वयं प्रभा, प्रधानमंत्री सुरक्षित सड़क योजना, शाला अश्मिता योजना, प्रधानमंत्री ग्राम परिवहन योजना, राष्ट्रीय स्वास्थ्य सुरक्षा अभियानदृ छंजपवदंस भ्मंसजी च्तवजमबजपवद डपेेपवद, राईट टू लाइट स्कीम  राष्ट्रीय संस्कृति महोत्सव, उड़ान दृ उडे देश का आम नागरिक,  डिजिटल ग्राम-ऊर्जा गंगा, सौर उज्जाला योजना, एक भारत श्रेष्ठ भारत, शहरी हरित परिवहन योजना (ळन्ज्ै), प्रधानमंत्री युवा योजना, भारत नेशनल कार असेसमेंट प्रोग्राम (छब्।च्), अमृत व्त् ।डत्प्ज् (अफोर्डेबल मेडिसिन एंड रिलाएबल इम्प्लांट्स फॉर ट्रीटमेंट), राष्ट्रीय आदिवासी उत्सव, प्रवासी कौशल विकास योजना, प्रधानमंत्री रोजगार प्रोत्साहन योजना,
गर्भवती महिलाओं के लिए आर्थिक सहायता योजना, वरिष्ठ नागरिकों के लिए थ्पगक क्मचवेपज स्कीम-वरिष्ठ पेंशन बीमा योजना 2017, प्रधानमंत्री ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान, यूनिवर्सल बेसिक इनकम स्कीम दृ विचाराधीन,जन धन खाता धारकों के लिए बीमा योजना,. महिला उद्यमियों के लिए स्टार्ट-अप इंडिया योजना, मछुआरों के लिए मुद्रा लोन योजना, ग्रीन अर्बन मोबिलिटी स्कीम, राष्ट्रीय वयोश्री योजना,

ये भी पढ़े- गुजरात से पलायन के मुद्दे पर तेजस्वी यादव का सीएम योगी पर हमला, ट्वीट कर कही ये बड़ी बात

डप्ळ के लिए प्रधानमंत्री आवास योजना लोन स्कीम, पॉवेरटेक्स इंडिया स्कीम, भारत के वीर पोर्टल, व्यापारियों के लिए भीम आधार एप, भीम रेफेरल बोनस स्कीम और कैशबैक स्कीम, शत्रु सम्पति कानून, डिजिधन मेला, राष्ट्रीय जनजातीय कार्निवल, यूनिवर्सल बेसिक आय 10 करोड़ गरीब परिवारों को इलाज के लिए 5 लाख रूपया की सहायता, प्रधानमंत्री मोदी जी लगातार देश को उन्नति पर ले जा रहे है। तुलना तो होगी देश की अवन्ती जो आपने की कांग्रेस ने  और उन्नति जो मोदी जी ने की।

Check Also

“अखिलेश यादव समाजवादी विचारधारा के नहीं मौकावादी विचारधारा के हैं पोषक”

लखनऊ। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव समाजवादी विचारधारा …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com