इस गणतंत्र दिवस पर होंगे 651 पुलिस कर्मी सम्मानित, डीजीपी मुख्यालय ने की घोषणा

 

गणतंत्र दिवस 2018 को इस बार बहुत खास है पुलिस कर्मियों के लिए. डीजीपी मुख्यालय ने इस बात की घोषणा बुधवार शाम को कर दी है. 651 पुलिस कर्मियों को उत्कृष्ट, सराहनीय सेवा सम्मान चिह्न और प्रशंसा चिह्न से सम्मानित किया जाएगा।

 

ये भी  पढ़े – एंटी रोमियो स्क्वायड के आंकड़े आएं सामने, 9 महीने की मुहीम में प्रत्येक दिन छेड़ खानी के 6 मामले सामने

 

डीजी विजिलेंस हितेश अवस्थी, डीजी पीएसी आरके विश्वकर्मा, एडीजी पीएचक्यू बीपी जोगदंड, आईजी नवनीत सिकेरा, गृह सचिव भगवान स्वरूप, आईजी भर्ती बोर्ड वितुल कुमार, डीजीपी के सहायक संजय सिंघल, एसपी आगरा अमित पाठक, एसएसपी लखनऊ दीपक कुमार समेत 150 पुलिस अधिकारियों व कर्मियों को पुलिस महानिदेशक का प्रशंसा चिह्न (स्वर्ण) दिया जाएगा। वहीं, 251 अधिकारियों व कर्मियों को डीजीपी का प्रशंसा चिह्न (सिल्वर) दिया जाएगा। इनमें डीजी अभिसूचना भवेश कुमार सिंह, एडीजी सुरक्षा विजय कुमार, एडीजी क्राइम चंद्र प्रकाश, आईजी ए सतीश गणेश, डीआईजी प्रवीण कुमार, आईजी एसटीएफ अमिताभ यश शामिल हैं।

 

सम्मानित किए जाने वाले पुलिस अधिकारियों व कर्मियों की सूची पर विवाद भी खड़ा हो गया। बुधवार शाम डीजीपी कार्यालय से सूची जारी हुई और फिर उसे यह कहकर रोक दिया गया कि संशोधित सूची जारी होगी। देर रात डीजीपी मुख्यालय ने शाम को ही जारी की गई सूची को ही हरी झंडी दे दी।

 

 

ये भी  पढ़े – पुलिस कर्मियों ने थाने में लगाया झाड़ू, कहा- हमारी नैतिक जिम्मेदारी!

सूत्रों के अनुसार सूची में ऐसे लोगों के नाम नहीं थे जिन्होंने अपने-अपने जिले में अपराध नियंत्रण में अहम भूमिका निभाई और कई बदमाशों को ढेर किया। दूसरी तरफ सूची में कुछ ऐसे पुलिस वालों के नाम भी शामिल थे जिनका पिछले एक साल में कोई विशेष योगदान नहीं रहा।

मुख्यमंत्री तक जानकारी पहुंची कि मुठभेड़ में अपराधियों को ढेर करने वाले शामली के एसपी अजयपाल शर्मा और आजमगढ़ के एसपी अजय साहनी का नाम सूची में नहीं है तो उन्होंने पूरी सूची के साथ डीजीपी ओपी सिंह को तलब कर लिया।

 

सूत्रों का कहना है कि यह सूची पूर्व डीजीपी सुलखान सिंह ने तैयार कराई थी। मुख्यमंत्री द्वारा डीजीपी को तलब किए जाने के बाद सम्मानित किए जाने वाले पुलिस कर्मियों की सूची को लेकर संशय की स्थिति बन गई। डीजीपी मुख्यालय से भी संदेश जारी कर दिया गया कि सूची रोक दी गई है।

संशोधन के बाद दोबारा सूची जारी की जाएगी। देर रात डीजीपी मुख्यालय ने यह कहते हुए पहले वाली सूची को फाइनल कर दिया कि यह सभी जिलों को भेजी जा चुकी है। बृहस्पतिवार को रिहर्सल होना है। ऐसे में अब सूची में संशोधन संभव नहीं है। जिन लोगों के नाम रह गए हैं, उन्हें स्वतंत्रता दिवस पर 15 अगस्त को सम्मानित किया जाएगा।

प्रदेश की धड़कन, 'इंडिया जंक्शन न्यूज़' के ताजा अपडेट पाने के लिए जुड़ें हमारे फेसबुक पेज से...

Check Also

राममंदिर निर्माण के लिए अब ये संगठन कर रहा बड़े कार्यक्रम की तैयारी

लखनऊ। 25 नवंबर को अयोध्या में राममंदिर निर्माण के लिए विशाल धर्मसभा का आयोजन किया …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com