Breaking News

शिवसेना के संपादकीय में अन्ना हजारे पर उठे सवाल

Edited by -Priya Bajpai

दिल्ली में रामलीला मैदान पर अनशन पर बैठे अन्ना हजारे पे शिवसेना ने सवाल उठाया है और  अपने समाचार पत्र सामना के संपादकीय में पूछा है कि अन्ना हजारे दिल्ली क्यों गए और दिल्ली जाकर उन्होंने क्या हासिल किया.आप को बात दे के पिछले हफ्ते अन्ना हजारे दिल्ली के रामलीला मैदान पर अपनी मांगो को लेकर अनिश्चित काल के अनशन पर बैठें थे.

ये भी पढ़े -ब्रिटेन में दिखेगा भारत के प्रधानमंत्री मोदी का मैजिक

 

जहा महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने अन्ना  को लिखित में दिया की वो उनकी मांगो पर काम करेंगे तब कही जा के अन्ना ने अपना सात दिनों में अनशन तोडा .और साथ ही साथ सामना में ये भी लिखा है कि अच्छी बात है कि अन्ना सही सलामत अपने गांव वापस लौट आए, लेकिन इस अनशन से क्या हासिल हुआ, इस पर लोग सवाल पूछ रहे हैं.

अन्ना का वजन 6-7 किलो घट गया, लेकिन इस आंदोलन से हाथ कुछ नहीं आयालेख में कहा गया है कि वैसे पिछले आंदोलन से भी क्या हासिल हुआ, इसका खुलासा कोई करेगा क्या? देश में लोकपाल और विभिन्न राज्यों में लोकायुक्त की नियुक्ति की जाए. ये मांग कल भी थी, आज भी है और 6 माह के बाद भी रहने वाली है

लालकृष्ण आडवाणी से की  तुलना

लेख में ये भी लिखा गया है की अन्ना के पिछले आंदोलन में जो लोग अन्ना जिंदाबाद के नारे लगा रहे थे और लोकपाल चाहिए ही कर रहे थे वो सब दिल्ली और दुसरे राज्यों में सत्तासीन है अन्ना के हालत लालकृषण अडवानी जैसे है ,बस वो चुप है और अन्ना बोल रहे . अन्ना भ्रम में हैं कि बोलने से और भूखे रहने से सरकार सुनेगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*