मिजोरम में सत्ता विरोधी लहर ने कांग्रेस को सत्ता से बाहर दिया : माणिक

आइजोल| मार्क्‍सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) के नेता व त्रिपुरा के पूर्व मुख्यमंत्री माणिक सरकार ने बुधवार को यहां कहा कि पांच राज्यों के चुनावी नतीजों में ‘लोगों ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की अगुवाई वाली केंद्र व राज्य सरकारों के कुशासन के कारण अपनी पीड़ा और नाराजगी जाहिर की है।’

माणिक सरकार वर्तमान में त्रिपुरा में विपक्ष के नेता हैं। सरकार ने कहा कि इसी तरह की भाजपा विरोधी भावना अगले साल होने वाले आम चुनाव में भी दिखाई देगी।

उन्होंने कहा, “मिजोरम में सत्ता विरोधी लहर ने कांग्रेस को सत्ता से बाहर कर दिया, लेकिन दूसरे पूर्वोत्तर के राज्यों में भाजपा ने सत्ता में आने के लिए झूठे वादों के अलावा धनबल का इस्तेमाल किया, और साथ ही मीडिया का भी इस्तेमाल किया।”

माकपा के लोकसभा में मुख्य सचेतक जितेंद्र चौधरी ने कहा कि भाजपा राजस्थान, छत्तीसगढ़ व मध्य प्रदेश में हार गई। इससे विपक्ष का आत्मविश्वास बढ़ेगा और अगले साल होने वाले आम चुनाव से पहले विपक्ष को एकजुट होने में मदद मिलेगी।

प्रदेश की धड़कन, 'इंडिया जंक्शन न्यूज़' के ताजा अपडेट पाने के लिए जुड़ें हमारे फेसबुक पेज से...

Check Also

झारखंड में 2019-2020 का वित्तीय बजट ज़ारी…

  रांची: राज्य सरकार झारखंड विधानसभा में मंगलवार को वित्तीय वर्ष 2019-20 का बजट पेश …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com