पंतजलि की कोरोना दवा पर रोक, आयुष मंत्री बोले- जांच के बाद मिलेगी प्रयोग की अनुमति

नई दिल्‍ली। योग गुरु बाबा रामदेव की पतंजलि आयुर्वेद ने मंगलवार को कोविड-19 के इलाज के लिए दवा तैयार कर लेने का दावा किया है, जिसके बाद से इसे लेकर लोगों के बीच चर्चा तेज हो गई है। मगर, आयुष मंत्रालय ने साफ कर दिया कि कंपनी को पहले इस दवा के परीक्षण व अन्य जानकारियों को उसके साथ साझा करना होगा।

यह भी पढ़ें: भूकंप के झटके से फिर हिला मिजोरम, रिक्टर स्केल पर तीव्रता 4.1

बुधवार को केंद्रीय आयुष मंत्री श्रीपद नाइक ने कहा कि नियम के अनुसार पहले आयुष मंत्रालय में दवा को जांच के लिए दिया जाना चाहिए। उन्‍होंने कहा, यह अच्छी बात है कि बाबा रामदेव ने देश को नई दवा दी है, लेकिन नियम के अनुसार, दवा को पहले आयुष मंत्रालय में जांच के लिए देना होगा। रामदेव ने यहां तक कहा है कि उन्होंने एक रिपोर्ट भेजी है। हम इसे देखेंगे और इसके बाद ही दवा को प्रयोग के लिए अनुमति दी जाएगी।

कल लॉन्‍च की गई थी कोरोना वायरस की दवा

बता दें कि मंगलवार को बाबा रामदेव की पतंजलि आयुर्वेद ने कोरोना वायरस के इलाज का सफल दावा करते हुए दवा लॉन्च की। इस दवा को ‘दिव्य कोरोनिल टैबलेट’ नाम दिया गया है। बाबा रामदेव ने कहा कि पतंजलि ने खतरनाक वायरस के इलाज के लिए इस आयुर्वेदिक दवा को तैयार किया है। उन्होंने बताया कि इस दवा का सेवन करने पर रोगी पांच से 14 दिनों के भीतर ठीक हो जाता है।

प्रदेश की धड़कन, 'इंडिया जंक्शन न्यूज़' के ताजा अपडेट पाने के लिए जुड़ें हमारे फेसबुक पेज से...

Check Also

चीन से तनाव के बीच लद्दाख पहुंचे PM मोदी, समझिए चीन सीमा पर मोदी की मौजूदगी के मायने

पीएम नरेंद्र मोदी शुक्रवार सुबह चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (सीडीएस) जनरल विपिन रावत और थलसेना …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com