आजम खान पर हुई FIR और लगा देशद्रोह का केस

रामपुर. सेना पर विवादित बयान देने वाले सपा के सीनियर नेता आजम खान के खिलाफ केस दर्ज कराया गया है। उनके खि‍लाफ पुलिस ने आईपीसी की धारा 153ए और 505 के तहत मामला दर्ज किया है। यूपी के पूर्व मंत्री शि‍व बहादुर सक्सेना के बेटे और बीजेपी नेता आकाश सक्सेना ने आजम खां के खिलाफ सिविल लाइन्स थाने में एफआईआर दर्ज कराई है। इसके अलावा आजम के खिलाफ देशद्रोह का केस भी दर्ज कराया गया है। बता दें कि आजम ने 27 जून को कहा था, “झारखंड, कश्मीर और असम में दहशतगर्द महिलाएं फौजियों के प्राइवेट पार्ट्स काट ले जाती हैं, वहां महिलाएं रेपिस्ट फौजियों से बदला लेने के लिए मजबूर हैं। देश के लिए ये शर्मनाक है।” आजम के बयान से सेना का मनोबल गिरेगा.
बीजेपी नेता आकाश सक्सेना उर्फ हनी ने आजम खान पर सेना के खिलाफ अपमानजनक बयान देने के आरोप में सिविल लाइन्स थाने में एफआईआर दर्ज कराई है। इसमें बीजेपी नेता ने कहा है कि आजम खान का बयान भारतीय संविधान और भारतीय सेना की कार्यशैली के विरुद्ध है। इससे सेना का मनोबल गिरेगा। यह जवानों को अपने कर्तव्यों से विचलित करने का प्रयास है।
बिजनौर में देशद्रोह का केस दर्ज
– आजम खान पर इसी मामले में बिजनौर के चांदपुर थाने में देशद्रोह का केस दर्ज किया गया है। विहिप के अनिल पांडे और कपिल चौधरी ने उन पर केस दर्ज कराया है। पुलिस ने आईपीसी की धारा 124, 131 और 505 के तहत केस दर्ज किया है। सीओ (सर्कल ऑफिसर) चांदपुर यशपाल सिंह ने केस दर्ज किए जाने की बात कन्फर्म की है।
आजम खान ने क्या कहा था?
– आजम खान ने 27 जुलाई की देर रात रामपुर के सपा कैम्प दफ्तर में वर्कर्स को ऐड्रेस करते हुए कहा था, “कई लोग फौजी के या बेगुनाहों के सिर उतारते हैं। कई लोग हाथ काटते हैं, लेकिन महिला दहशतगर्द फौजियों के प्राइवेट पार्ट्स को काट कर ले गईं। उन्हें हाथ से शिकायत नहीं थी, उन्हें सिर से शिकायत नहीं थी, पैर से भी नहीं थी। जिस्म के जिस हिस्से से उन्हें शिकायत थी, उसे वे अपने साथ ले गईं। ये कितना बड़ा संदेश है, हमें इस पर सोचना चाहिए।”

Check Also

प्रदेश सरकार के वरिष्ठ नेताओं में से एक थे पटेल रामकुमार वर्मा  

  लखनऊ- लखीमपुर खीरी से लगातार 5 बार विधायक रहे पटेल राम कुमार जिनका लम्बी …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com