Breaking News

बांग्लादेश : पूर्व प्रधानमंत्री खालिदा जिया को पांच साल की कैद

बांग्लादेश : पूर्व प्रधानमंत्री और विपक्षी बीएनपी की प्रमुख खालिदा जिया को लगा बड़ा झटका आज भ्रष्टाचार के एक मामले में ढाका की स्पेशल कोर्ट-5 ने 72 वर्षीय खालिदा जिया को 2.1 करोड़ टका (बांग्लादेशी रुपए) (252,000 डालर) के विदेशी चंदे के गबन के सिलसिले में में पांच साल की सजा सुनाई गई. यह राशि जिया ओरफनेज ट्रस्ट के लिए थी. वही इसी मामले में उनके बेटे तारिक रहमान सहित अन्य चार को 10-10 साल कैद की सजा सुनाई गई है.  भ्रष्टाचार के मामले में सुनवाई से बचने की जिया की अंतिम कोशिश भी 30 नवंबर, 2014 को नाकाम हो गई थी जब सुप्रीम कोर्ट ने उनके अभ्यारोपण को चुनौती देने वाली अपील को स्वीकार नहीं किया था. और उनसे निचली अदालत में सुनवाई का सामना करने को कहा था उससे पहले 19 मार्च, 2014 को हाईकोर्ट ने निचली अदालत में उस सुनवाई को सही ठहराया था.

 

कैसे लगे खालिदा जिया पर आरोप ?-

भ्रष्टाचार निरोधक आयोग (एसीसी) ने उन पर भ्रष्टाचार के दो आरोप लगाये थे एसीसी का आरोप है कि यह ट्रस्ट, एक अन्य ट्रस्ट और जिया चैरिटेबल ट्रस्ट बस कागजों पर थे तथा जब जिया 2001-2006 की बीएनपी सरकार के दौरान प्रधानमंत्री थीं तब इन दोनों संगठनों के नाम पर बड़ी मात्रा में धन की हेराफेरी की गई थी. भ्रष्टाचार के मामले में सुनवाई से बचने की जिया की अंतिम कोशिश भी 30 नवंबर, 2014 को नाकाम हो गई थी जब सुप्रीम कोर्ट ने उनके अभ्यारोपण को चुनौती देने वाली अपील को स्वीकार नहीं किया था. और उनसे निचली अदालत में सुनवाई का सामना करने को कहा था उससे पहले 19 मार्च, 2014 को हाईकोर्ट ने निचली अदालत में उस सुनवाई को सही ठहराया था.

 

 देशद्रोह की शिकायत दाखिल की गई थी-

ढाका: बांग्लादेश की एक अदालत ने 2015 में सरकार विरोधी आंदोलन के दौरान एक बस पर किए गए बम हमले के सिलसिले में मंगलवार (2 जनवरी) को पूर्व प्रधानमंत्री खालिदा जिया की गिरफ्तारी का आदेश दिया था. हमले में आठ लोग मारे गए थे. एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि कोमिला जिला अदालत की न्यायाधीश जैनब बेगम ने मामले में पुलिस द्वारा दायर आरोपपत्र को मंजूरी देते हुए गिरफ्तारी का वारंट जारी किया गया था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*