nitish kumar bihar election2020

बिहार इलेक्शन:भाजपा को वोटों का डर,तो चिराग की मुश्किलें भी कम नहीं

बिहार:बिहार विधानसभा 2020  का चुनाव नजदीक है तो वहीं कुछ पार्टीयां  एक दूसरे पर आरोप प्रत्यरोपण लगा रही हैं. लोजपा पार्टी कुछ समय के लिए सही दिख रही थी तो अब भाजपा ने अपनी नीतियों में कई बदलाव किए है.  नीतीश कुमार के संबंध भाजपा से  सुढ़ढ नहीं दिख रहे हैं.जिसका आसर साफतौर पर लोजपा पर दिख रहा है क्योंकि सरकार को  बनाने में लोजपा की अहम भूमिका है  जिसका भविष्य पार्टी के ऊपर निर्भर करेगा.

लोजपा पार्टी एनडीए गठबंधन का हिस्सा नहीं इस बात का कोई भ्रम ना फैलाएं.पहले भी लोजपा की पार्टी अकेले भी चुनाव लड़ चुकी है.पार्टी के सदस्यों को सख्त हिदायत दी गई है की वह पार्टी के निर्देशों का पालन करें, नहीं  तो उन पर अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाएगी. इसके साथ ही पीएम मोदी और नीतीश कुमार की साझा रैलियों की घोषणा जारी की गई है.

यह भी पढ़ें : हाथरस :एक बार फिर चार वर्षीय बच्ची से दुष्कर्म की वारदात,रिश्तों को किया तार-तार

भाजपा ने अपने नीतियों में बदलाव की मुख्य वजह वोट के बंटवारे को लेकर मान रही है.  भाजपा और जदयू के दूरी का कारण कुर्मी-कुशवाहा की  नाराजगी देखी जा सकती है.इसके साथ ही  नीतीश की महादलितों और कुछ अति पिछड़ी जातियों में भी पैठ है, तो इस बात से जाहिर होता है कि लोजपा के मामले में ज्यादा खींचतान से नीतीश के समर्थकों में जातियों को लेकर नाराजगी हो सकती है।

 

 

प्रदेश की धड़कन, 'इंडिया जंक्शन न्यूज़' के ताजा अपडेट पाने के लिए जुड़ें हमारे फेसबुक पेज से...

Check Also

पटना: कुम्हरार विधानसभा में सक्रिय निर्दलीय प्रत्याशी विनोद पाठक

पटना। बिहार के चुनावी रण में सभी पार्टियां अपना दम खम दिखा रही हैं और …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com