शाहीन बाग: प्रदर्शनकारियों को जिहाद के नाम पर भड़काते थे गिरफ्तार आतंकी दंपती

नई दिल्‍ली। देश की राजधानी दिल्‍ली में सीएए (नागरिकता संशोधन कानून) के खिलाफ भड़की हिंसा के पीछे आतंकी संगठन आईएसआईएस का लिंक सामने आया है। रविवार को दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने ओखला क्षेत्र के जामिया नगर में छापा मारकर जम्मू-कश्मीर के मूल निवासी एक दंपती को गिरफ्तार किया है, जो आईएस के अफगानिस्तान में सक्रिय मॉड्यूल इस्लामिक स्टेट ऑफ खोरासन प्रॉविंस (आईएसकेपी) से संपर्क में थे।

ये दंपती जल्द ही देश में किसी बड़े आत्मघाती हमले को अंजाम देने की तैयारी में थे। दोनों इसके लिए लगातार सीएए विरोध के बहाने शाहीन बाग व जामिया क्षेत्र के युवाओं को बरगला रहे थे। दिल्ली पुलिस ने दोनों से पूछताछ में मिली जानकारी के आधार पर सर्च अभियान शुरू कर दिया है।

दिल्ली पुलिस के स्पेशल सेल के डीसीपी प्रमोद सिंह कुशवाहा के अनुसार, आरोपी दंपती की पहचान जहांजेब सामी और उसकी पत्नी हिना बशीर बेग के तौर पर हुई है। दोनों पिछले साल जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद-370 खत्म होने पर श्रीनगर से अगस्त में दिल्ली पहुंचे थे।

पुलिस टीम ने उनके पास से इलेक्ट्रॉनिक उपकरण, जिहादी विचारों को बढ़ावा देने वाली भड़काऊ किताबें व अन्य आपत्तिजनक सामग्री बरामद की हैं। डीसीपी कुशवाहा ने बताया कि दोनों शाहीन बाग व जामिया के सीएए विरोधी प्रदर्शन में तीन महीने से सक्रिय थे। सीएए के विरोध को लंबा चलाने के लिए ये दोनों प्रदर्शनकारियों को जिहाद के नाम पर भड़काते थे।

व्हाट्सएप से करते थे संपर्क  

सामी और हिना लगातार सोशल मीडिया और व्हाट्सएप कॉलिंग के जरिए आईएसकेपी के वरिष्ठ सदस्यों से अफगानिस्तान में संपर्क बनाए हुए थे। सामी खुद को अमीर ऑफ विलाया हिंद कहलाने वाले खोरासान के हुजैफा बाकिस्तानी से भी संपर्क में था, जो अब मारा जा चुका है। इसके अलावा सामी ने पूछताछ में यह भी बताया कि उसने आईएस की ‘सॉत अल-हिंद (वॉयस ऑफ इंडिया)’ पत्रिका के फरवरी अंक के प्रसार में भी सक्रिय भूमिका निभाई थी।

प्रदेश की धड़कन, 'इंडिया जंक्शन न्यूज़' के ताजा अपडेट पाने के लिए जुड़ें हमारे फेसबुक पेज से...

Check Also

मोदी कैबिनेट के बड़े फैसले: 14 फसलों के समर्थन मूल्य में इजाफा, किसान-MSME पर ऐलान

नई दिल्‍ली। मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल का पहला साल पूरे होने के बाद आज …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com