सम्पादकीय

प्रधानमंत्री के संदेश में छिद्रान्वेषण तो होना ही था

कृष्णमोहन झा   प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गत दिवस राष्ट्र के नाम जो संबोधन दिया वह विगत चार माहों की अवधि में उनका छठा संबोधन था, जिसमें अपनी बात देशवासियों से कहने में उन्हें मात्र 16 मिनट लगे। देश में कोरोना वायरस का संक्रमण जिस तरह विकराल रूप ले चुका है, उसे देखते हुए यह तो सुनिश्चित ही माना जा …

Read More »

तेल की धार से परेशान क्यों नहीं होती सरकार?

कृष्णमोहन झा देश में लगभग तीन हफ्तों से पेट्रोल और डीजल की कीमतों में रोजाना ही बढ़ोत्तरी हो रही है और अब दिल्ली में तो यह तो स्थिति आ गई है कि डीजल की कीमत पेट्रोल से अधिक हो चुकी है। यह अभूतपूर्व स्थिति है। इसके पहले डीजल के दाम पेट्रोल से आगे शायद ही कभी निकले हों। एक समय …

Read More »

चीन को आर्थिक मोर्चे पर मात देने से ही बनेगी बात

कृष्णमोहन झा हम एक बार फिर अपने पड़ोसी देश चीन के छल का शिकार हो गए। पिछले कुछ दिनों चीन के साथ सैन्य स्तर की थोड़ी सी वार्ता के बाद ही हम अपने पड़ोसी देश की बातों में आ गए। उसने हमारी जमीन पर अपना नाजायज कब्जा छोड़ने का हमें आश्वासन दिया और हमने झट यह मान लिया कि अतीत …

Read More »

हर आतंकी का यही हश्र तय है

कृष्णमोहन झा   विगत दिनों कश्मीर के हंदवाडा इलाके में आतंकियों द्वारा बंधक बनाए परिवार के सदस्यों को उनके चंगुल से छुड़ाने  के लिए आतंकियों से लड़ते हुए जब भारतीय सेना के एक मेजर सहित पांच बहादुर जवानों को अपनी शहादत देनी पड़ी थी तो देशवासियों का खून खौल उठा था और सारा देश अधीरता से उस घड़ी की प्रतीक्षा …

Read More »

गांधीजी जी ने खारिज कर दिया मित्र का आग्रह

Edited By Mamta Yadav… महात्मा गांधी के भारत लौटने के बाद आजादी की लड़ाई तक देश-दुनिया में उनके काफी ईसाई मित्र हुये। ये मित्रता ब्रिटेन और फिर दक्षिण अफ्रीका प्रवास के दौरान ईसाईयों के संपर्क में आने पर शुरू हुई। इस मित्रता के बाद एक खास मुलाकात में उनके एक मित्र ने उनसे ईसाई बनने का अप्रत्यक्ष आग्रह भी किया …

Read More »

प्रेमावतार भगवन श्री कृष्णा

जन्माष्टमी का नाम सुनते ही सबके चेहरे पर मुस्कान खिल जाती है क्यूंकि कृष्ण प्रेम की मूरत थे।  प्रेम को बढ़ने और पाप का अंत करने के लिए ही वे प्रकट हुए थे।  उनका प्राकट्य दिवस ही जन्माष्टमी के रूप में मनाया जाता हैं।  प्रेम का विस्तार करने के लिए उन्होंने अपना ही एक रूप राधा जी को बनाया। वे अजन्मे …

Read More »

कुछ सपनों के मर जाने से जीवन नहीं मर जाता

  Adited By Jitendra Singh       कभी आत्महत्या का विचार आये तो एक बार चक्कर पागलखाने के आईसीयू में लगा देना हॉस्पिटल के अंदर की एक मरीज को बचाने के लिए उसके परिजन कितना मेहनत करते हैं एक डाक्टर कितना मेहनत करता है। लाखों करोड़ों रुपये खर्च कर देते हैं जान बचाने के लिए। इसलिए “दोस्त जिंदगी से …

Read More »

लोकसभा चुनाव 2019: वो दिग्गज जो बहुत कम अंतर से जीते-हारे

सत्रहवीं लोकसभा के चुनाव में कुछ ऐसी सीटें रही हैं जहां दिग्गज प्रत्याशियों की जीत का अंतर बहुत ही कम रहा. उत्तर प्रदेश के नतीजों पर ग़ौर करें तो ऐसी 9 सीटें रही हैं जहां हार जीत का अंतर 20 हज़ार वोटों से कम रहा. क़रीब चार सीटें ऐसी रही हैं जहां 10 हज़ार से भी कम वोटों से प्रत्याशियों …

Read More »

स्किजोफ्रेनिया से पीड़ित है हर 100वां व्यक्ति

यदि कोई व्यक्ति सड़क पर खुद से बातें करते, हंसते अथवा रोते हुए दिखे तो समङिाए कि वह मानसिक बीमारी स्किजोफ्रेनिया से पीड़ित है। उसे मनोचिकित्सक के पास ले जाने की जरूरत है। इस बीमारी का जिक्र इसलिए, क्योंकि पूरा विश्व 24 मई को ‘वल्र्ड स्किजोफ्रेनिया डे’ मना रहा है। आंकड़ों पर गौर करें तो हर 100वां व्यक्ति इस गंभीर …

Read More »

मोदी को मिले प्रचंड बहुमत से पैदा हुई जलन के लिए राफेल से आ रहा Burnol

जलन की दवा burnol. आप समझ ही रहे होंगे कि इस चुनावी हार-जीत के माहौल में किसकी तरफ इशारा कर रही है. हाँ, वही जो आप समझ रहे हैं. कांग्रेस और burnal वाले मीम की बात हो रही है. सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स पर burnol वाले मीम की बहार आयी हुई हैं. यहाँ तक कि इस मीम में हार के गम …

Read More »

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com