प्रतीकात्मक तस्वीर

सदी का सबसे बड़ा तूफान अम्फान… देखिए डरा देने वाली तस्‍वीरें

नई दिल्‍ली। बुधवार को महा चक्रवात अम्फान भारत के कई तटीय राज्यों से टकरा सकता है और दोपहर तक यह ओडिशा और बंगाल के इलाकों तक पहुंचेगा। साइक्लोन अम्फान इस सदी का सबसे बड़ा तूफान है। इसी वजह से इसके रास्ते में आने वाले सभी राज्य अलर्ट पर हैं।

(फोटोः PTI)

यह भी पढ़ें: कोरोना पर ट्रंप ने दे दिया अजीब बयान, पढ़कर आप भी हो जाएंगे हैरान

बंगाल और ओडिशा में तेज हवाएं और बारिश शुरू हो गई है। 15 मई को विशाखापट्टनम से 900 किलोमीटर दूर दक्षिणी बंगाल की खाड़ी की कम दबाव और गहरे निम्न दबाव का क्षेत्र बनना शुरू हुआ। 17 मई को जब अम्फान दीघा से 1200 किलोमीटर दूर था, तब यह साइक्लोन में बदल गया।

18 मई की शाम चक्रवात अम्‍फान सुपर साइक्लोन में बदल गया। मंगलवार दोपहर को इसकी गति 200-240 किमी प्रतिघंटा की हवाओं के साथ चरम तक पहुंच गई है। यहीं पर यह सदी का सबसे बड़ा और भयानक तूफान बन गया।

(फोटोः AFP)

तूफानों के रिकॉर्ड 1890 से जमा किए जा रहे हैं। 130 वर्षों में केवल चार बार (1893, 1926, 1930, 1976) में 10 बार चक्रवाती तूफान आए। सबसे ज्यादा 66 तूफान 70 के दशक में आए। 1967 के बाद सबसे ज्यादा 9 तूफान पिछले साल आए थे।

(फोटोः PTI)

अम्फान साइक्‍लोन नाम 2004 में ही तय हो गया था। उत्तरी हिंद महासागर में आने वाले तूफानों के लिए 64 नामों में से 63 नामों का इस्तेमाल हो चुका है, सिर्फ अम्फान ही बचा था। इस नाम का संबंध थाईलैंड से है। इसे उस देश की शब्दावली से बनाया गया है।

(फोटोः PTI)

बुधवार सुबह ही ओडिशा के तटीय क्षेत्रों में तेज़ हवाएं चलीं, जहां पेड़ों को उखड़ते हुए भी देखा जा रहा है। इसके अलावा समुद्र के पास ऊंची-ऊंची लहरें उठ रही हैं। स्थानीय प्रशासन की ओर से लगातार लोगों से तटीय इलाकों से दूर रहने की सलाह दी जा रही है।

ओडिशा में चक्रवात अम्फान की स्थिति को देखते हुए कई शेल्टर कैंप भी स्थापित किए गए हैं। अभी तक राज्य में करीब 1700 से अधिक शेल्टर कैंप लगाए गए हैं, जिसमें एक लाख से अधिक लोगों को रखा गया है। दोनों राज्यों में एनडीआरएफ की 40 से अधिक टीमें तैनात की गई हैं। तटीय इलाकों से दो लाख से अधिक लोगों को निकाला जा चुका है।

(फोटोः AFP)

समुद्र में मछुआरों के जाने पर रोक लगा दी गई है। एनडीआरएफ के साथ-साथ स्थानीय प्रशासन राहत कार्यों में जुटा है। मंगलवार रात से कई इलाकों में तेज़ बारिश और हवाएं चल रही हैं।

 (फोटोः AFP)

इस चक्रवात का असर बंगाल, ओडिशा, सिक्किम, असम, मेघालय, केरल, कर्नाटक, बिहार तक देखने को मिल सकता है। उत्तर-पूर्वी राज्यों में भी अलर्ट जारी किया गया है। बंगाल में मिदनापुर, नॉर्थ-साउथ परगना, कोलकाता, हावड़ा में भी अम्फान अपना असर दिखा सकता है।

प्रदेश की धड़कन, 'इंडिया जंक्शन न्यूज़' के ताजा अपडेट पाने के लिए जुड़ें हमारे फेसबुक पेज से...

Check Also

कोरोना से प्रभावित टॉप 10 देशों में भारत, टेस्टिंग में सातवें नंबर पर

नई दिल्‍ली। वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के नए मामलों ने अब भारत में भी रफ्तार …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com