Breaking News

मोहन भगवात की अध्यक्षता में दो दिन तक होगी बिहार में आरएसएस की कोर बैठक

 

आरएसएस के राष्ट्रीय स्तर की शीर्ष इकाई कोर ग्रुप की बैठक 2 दिनों तक पटना में होगी। 10 दिवसीय प्रवास पर बिहार आए संघ प्रमुख डॉ. मोहन भागवत इस बैठक की अध्यक्षता करेंगे। जानकारी के अनुसार 2 दिनों की इस बैठक में मार्च में नागपुर में होने वाली अखिल भारतीय सम्मेलन के एजेंडों पर चर्चा होगी। साथ ही संघ की दूसरे नंबर की कुर्सी किसे मिलेगी, यह भी तय होगा। बिहार में संघ के इस शीर्ष इकाई की पहली बार बैठक हो रही है। बैठक में शामिल होने के लिए आरएसएस के सर कार्यवाह सुरेश सदाशिव जोशी उर्फ भैयाजी जोशी, सह सर कार्यवाह सुरेश सोनी, डॉ. कृष्ण गोपाल, दत्तात्रेय होसबले, भागइया जी सोमवार को पटना पहुंच चुके हैं।

 

ये भी पढ़े – बीजेपी RSS पर फारूक अब्दुल्ला का वार,धार्मिक आधारों पर देश को बांटना नुक्सानदेह

 

 

सूत्रों के अनुसार इस बैठक में भैयाजी जोशी के स्थान पर कर्नाटक से आने वाले दत्तात्रेय होसबले को सर कार्यवाह बनाने का प्रस्ताव आएगा। मार्च में नागपुर की बैठक में इन पर मुहर लगेगी। उल्लेखनीय है कि भैयाजी जोशी पिछले नौ साल से सर कार्यवाह के पद पर हैं। मिशन 2019 में भाजपा की फतह हासिल करने को लेकर भी आरएसएस इस बैठक में चिंतन करेगा। साथ ही बिहार सहित देश मे संघ के विस्तार पर भी रणनीति बनेगी। वहीं, दूसरी ओर सोमवार की संघ प्रमुख ने पटना में समाज के जाने-माने चिकित्सक, समाजसेवी और प्रबुद्ध लोगों के साथ चर्चा की। डॉ. भागवत 15 फरवरी को पटना से रवाना होंगे।

 

 

इससे पहले, संघ प्रमुख के दौरे को लेकर विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ने आरा की एक सभा में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से पूछा था कि आप के ‘संघ मुक्त भारत’ का क्या हुआ ? तेजस्वी ने कहा था कि संघ प्रमुख बिहार में अपनी यात्राओं और नीतीश की कमज़ोरी का फायदा उठाकर आएसएस पैर पसार रहा है. वही भाजपा नेता नंद किशोर यादव ने कहा था कि राजद समेत सभी पार्टियों में घबराहट दिखाता है कि आम लोगों का संघ के प्रति झुकाव बढ़ रहा है.

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*