ओवैसी के सामने ‘पाकिस्‍तान जिंदाबाद’ बोलने वाली लड़की को जेल

नई दिल्‍ली। नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के खिलाफ प्रदर्शन के दौरान एआईएमआईएम अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी के मंच से ‘पाकिस्तान जिंदाबाद’ के नारे लगाने वाली अमूल्या लियोना के खिलाफ राजद्रोह का केस दर्ज किया गया है। अमूल्या को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है। पुलिस मामले की छानबीन कर रही है।

वहीं, श्री राम सेना और हिंदू जनजागृति समिति के सदस्यों ने अमूल्य के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया। इस बीच यह भी खबर आ रही है कि अमूल्‍या के घर पर हमला हुआ है। प्राप्त जानकारी के मुताबिक, अज्ञात लोगों ने अमूल्या के घर हमला किया।

येदियुरप्‍पा बोले- नहीं मिलनी चाहिए जमानत

अमूल्या की गिरफ्तारी पर कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने कहा कि उसे जमानत नहीं दी जानी चाहिए, उनके पिता ने भी कहा है कि वह साथ नहीं देंगे। अब यह साबित हो गया कि उसका नक्सलियों से संपर्क था, उसको उचित सजा मिलनी चाहिए।

ओवैसी के मंच से लगाया था पाक जिंदाबाद का नारा

आपको बता दें कि सीएए, एनआरसी और एनपीआर के विरोध में आयोजित कार्यक्रम के आयोजकों के चेहरे का रंग उस समय उड़ गया, जब कार्यक्रम में शामिल अमूल्या नामक महिला ने ‘पाकिस्तान जिंदाबाद’ के नारे लगाए। इस दौरान एआईएमआईएम अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी भी वहां मौजूद थे। उन्होंने तुरंत महिला की इस हरकत की निंदा करते हुए कहा कि इससे से सहमत नहीं है और आश्वस्त करते हैं ‘हम भारत के लिए हैं’।

महिला को मंच से नीचे उतारे जाने के बाद ओवैसी ने कहा कि न तो मेरा और न ही मेरी पार्टी का उक्त महिला से कोई संबंध है। हम इस कृत्य की निंदा करते हैं। आयोजकों को उसे नहीं बुलाना चाहिए था। अगर मुझे पता होता कि ऐसा होगा तो मैं यहां नहीं आता। हम भारत के लिए हैं और किसी भी तरीके से अपने दुश्मन राष्ट्र पाकिस्तान का समर्थन नहीं करेंगे। हमारा मकसद देश बचाने के लिए है।

कौन है अमूल्या लियोना?

अमूल्या लियोना की उम्र 20 साल है। वह बंगलूरू के एनएमकेआरवी महिला कॉलेज से बीए जर्नलिज्म की पढ़ाई कर रही है। वह बंगलूरू में एक रिकॉर्डिंग कंपनी में ट्रांसलेटर के तौर पर भी काम कर चुकी है। उसने सेंट नॉरबेट सीबीएसई स्कूल और मणिपाल के क्राइस्ट स्कूल से पढ़ाई की है। अमूल्या लियोना ‘अलनोरोन्हा’ के नाम से अलग फेसबुक पेज चलाती है।

 

प्रदेश की धड़कन, 'इंडिया जंक्शन न्यूज़' के ताजा अपडेट पाने के लिए जुड़ें हमारे फेसबुक पेज से...

Check Also

कोरोना इफेक्‍ट: घंटाघर पर CAA-NRC विरोधी धरना स्थगित, प्रदर्शनकारी महिलाएं हटीं

लखनऊ। राजधानी के हुसैनाबाद स्थित घंटाघर पर पिछले 66 दिनों से नागरिकता कानून व एनआरसी …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com