CM भूपेश बोले, कोरबा के लेमरू में बनेगा हाथी अभ्यारण्य

छत्तीसगढ़ में मानव-हाथी द्वंद की वजह से जान-माल की बड़ी हानि अक्सर होती रहती है। राज्य में जंगली हाथियों की बड़ी तादात और जंगल का दायरा घटने के कारण यह संघर्ष और भी गंभीर होता जा रहा है। ऐसे में राज्य सरकार हमेशा से इस समस्या के समाधान की तलाश में रही है।

अब राज्य में हाथियों को सुरक्षित आवासीय क्षेत्र प्रदान करने के लिए कोरबा के लेमरू वन क्षेत्र में हाथी अभ्यारण्य की स्थापना की जाएगी। यह महत्वपूर्ण घोषणा स्वतंत्रता दिवस के मुख्य समारोह के दौरान मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने की।

उत्तर छत्तीसगढ़ में सरगुजा, कोरिया, कोरबा, बलरामपुर, सूरजपुर, जशपुर, रायपुर, धमतरी और महासमुंद सहित राज्य के कई जिले हाथी समस्या से प्रभावित हैं। पिछले तीन साल के दौरान करीब 200 लोगों की मौत हाथियों के हमले की वजह से हुई है। 71 वर्ग किलोमीटर क्षेत्र में फैले घनघोर वनों वाले लेमरू फारेस्ट को हाथियों के प्राकृतिक आवास के रूप में विकसित किया जाएगा। इसके साथ ही इस क्षेत्र को पूरी तरह सुरक्षित रखा जाएगा।

प्रदेश की धड़कन, 'इंडिया जंक्शन न्यूज़' के ताजा अपडेट पाने के लिए जुड़ें हमारे फेसबुक पेज से...

Check Also

चलती ट्रेन में मां की गोद से बच्‍चा छीनकर बाहर फेंका, आरोपित ने बताई चौंकाने वाली बात

 मालदा से दिल्ली जा रही फरक्का एक्सप्रेस में यात्री की सनक से एक परिवार पर …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com