मनोज तिवारी ने ली हार की जिम्‍मेदारी, की इस्तीफे की पेशकश

नई दिल्‍ली। दिल्ली विधानसभा चुनाव में करारी शिकस्त झेलने के बाद आज भाजपा के दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी ने इस्तीफे की पेशकश की। वहीं, सूत्रों की मानें तो मनोज तिवारी की इस पेशकश को भाजपा हाईकमान ने खारिज कर दिया है और उन्हें अध्यक्ष पद पर बने रहने के लिए कहा है।

विधानसभा चुनाव के नतीजे आने के बाद मंगलवार को मनोज तिवारी ने प्रेस वार्ता कर कहा कि मैं मतदान के लिए मतदाताओं को धन्यवाद देता हूं। भाजपा कार्यकर्ताओं ने कठिन परिश्रम किया है, इसके लिए उन्हें साधुवाद है। कार्यकर्ताओं ने मेहनत की है। उम्मीद है कि मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल अच्छा करते हुए दिल्ली की अपेक्षाओं की पूर्ति करेंगे। भाजपा ने काफी अपेक्षाएं की थीं, जिस पर खरी नहीं उतरीं। भाजपा हार की समीक्षा करेगी।

यह भी पढ़ें: दिल्‍ली में फिर AAP सरकार, 16 फरवरी को शपथ लेंगे केजरीवाल

उन्होंने कहा कि कभी-कभी ऐसा होता है कि पक्ष में निर्णय नहीं हो तो ऐसे में निराशा भी होती है, लेकिन यही धैर्य का समय भी होता है। कार्यकर्ताओं को निराश नहीं होना है। दिल्ली की जनता ने जो जनादेश दिया है वह सोच-समझकर दिया होगा। अच्छी बात यह है कि इस निराशा में भी भाजपा का 2015 की अपेक्षा मत प्रतिशत काफी बढ़ा है। 2015 में 32 प्रतिशत कुल वोट मिले थे, जो अब बढ़कर 37.08 प्रतिशत तक पहुंच गया है। सहयोगी दलों को मिलाकर करीब 40 प्रतिशत के आसपास है।

उन्होंने भाजपा की जीत वाले ट्वीट को संभालकर रखने वाले बयान पर कहा कि अगर आपने मेरा ट्वीट संभालकर रखा हुआ है तो रखे रहिए। दिल्ली विधानसभा चुनाव में जीत दर्ज करने वाले भाजपा के आठों विधायकों ने आज मनोज तिवारी से मुलाकात भी की।

 

प्रदेश की धड़कन, 'इंडिया जंक्शन न्यूज़' के ताजा अपडेट पाने के लिए जुड़ें हमारे फेसबुक पेज से...

Check Also

चीन में काल बना कोरोना… अबतक 1775 मौतें, 40 अमेरिकी भी संक्रमित

नई दिल्‍ली। चीन से शुरू हुआ कोरोना वायरस का कहर अब दुनिया के 25 से …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com