Breaking News

दिल्ली : BJP नही करना चाहती सीलिंग पर समाधान, AAP जाएगी सुप्रीम कोर्ट….

दिल्ली में चल ही सीलिंग को लेकर जहां कारोबारियों में हड़कंप मचा हुआ है. उद्योग-धंधे चौपट हो रहे है और सड़क पर बेरोजगारों की भीड़ बढ़ रही है. वहीं दिल्ली की राजनीति में भी इसे लेकर तूफान मचा हुआ है. सीलिंग पर आज दिल्ली में सत्तारूढ़ आप तथा बीजेपी में जमकर तकरार हुई. बीजेपी ने आरोप लगाया कि सीलिंग के समाधान के लिए मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने अपने निवास पर बुलाकर उनका अपमान किया और विधयकों के साथ धक्का-मुक्की की. उधर, दिल्ली सरकार ने कहा है कि वे सीलिंग पर अस्थाई रोक लगाने के लिए सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाएंगे.

 

 

दिल्ली में इन दिनों सीलिंग चल रही है. सीलिंग के लिए दिल्ली सरकार और बीजेपी में ठनी हुई है. दोनों ही सीलिंग को लेकर एकदूसरे को जिम्मेदार ठहरा रही हैं. बीजेपी का आरोप है कि यह सीलिंग दिल्ली सरकार के इशारों पर हो रही है. उधर, दिल्ली सरकार का कहना है कि सीलिंग को रोकने का अधिकार या तो उपराज्यपाल के पास है या फिर केंद्र सरकार के पास

 

सुप्रीम कोर्ट जाएगी AAP-

 

इस मामले के बाद मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करके कहा कि बीजेपी इस मुद्दे पर खुलकर बात करना नहीं चाहती, इसलिए सरकार पर निराधार आरोप लगा रही है. अरविंद केजरीवाल ने कहा कि इस समस्या के समाधान के लिए दिल्ली सरकार ने 5 बिंदुओं का एक पत्र उपराज्यपाल को लिखा था. लेकिन उपराज्यपाल ने इस पर कोई कार्रवाई नहीं की.

 

 

केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली नगर निगम ने पिछले तीन सालों में कनवर्जन चार्ज के रूप में करीब 3 हजार करोड़ रुपये वसूल किए हैं, लेकिन चार्ज वसूलने के बाद भी सीलिंग की जा रही है. उन्होंने कहा कि सीलिंग पर अस्थाई रोक की मांग के लिए वे सुप्रीम कोर्ट जाएंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*