स्टेट बैंक आॅफ इण्डिया बैंक द्वारा स्कूल बैग एवं पाठन सामाग्री का वितरण…

दृष्टि बाधित दिव्यांग बच्चे मुख्यधारा से जुड़ सकेंग. सुधीर एस. हलवासिया
लखनऊ । नेशनल एसोसिएशन फाॅर दाॅ ब्लाइन्ड लखनऊ यू.पी स्टेट ब्रान्च के 50 दृष्टि बाधित दिव्यांग बच्चों को स्टेट बैंक आॅफ इण्डिया द्वारा स्कूल बैग एवं पाठन सामाग्री का वितरण समारोह हलवासिया कोर्ट, हजरतगंज, लखनऊ के प्रांगण में हुआ। मुख्य अतिथि के रूप में श्री एस.के. सिन्हा, चीफ मैनेजर, स्टेट बैंक आॅफ इण्डिया, शाखा इन्दिरा नगर एवं श्री सुधीर एस. हलवासिया प्रदेश उपाध्यक्ष भाजपा एवं संरक्षक उपस्थित थे। कार्यक्रम में 50 दृष्टि दिव्यांग बच्चे व उनके माता पिता भी उपस्थित रहे।
पुरस्कार वितरण समारोह को सम्बोधित करते हुए भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष सुधीर एस. हलवासिया ने कहा कि दृष्टिबाधित दिव्यांग बच्चों हेतु यह एक छोटी एवं महत्वपूर्ण कदम है शिक्षा प्राप्त कर यह दृष्टि बाधित दिव्यांग बच्चे मुख्यधारा से जुड़ सकेंगे। हम इस विश्वास के साथ दृष्टिहीनों के कल्याण के लिए लगातार काम कर रहे हैं। कि शिक्षा ऐसे भविष्य के लिए अहम है जिसमें शारीरिक सीमाओं से आगे भी अवसर पैदा होते हैं। नेशनल एसोसिएशन फॉर ब्लाइंड यूपी स्टेट के छात्रों को जिंदगी के विभिन्न पड़ाव में उत्कृष्टता हासिल करने और विभिन्न मंचों पर अपनी प्रतिभा प्रदर्शित करने के लिए प्रेरित करेगा।
कार्यक्रम का संचालन संस्था की उपाध्यक्ष मिस अमिता दूबे द्वारा किया गया उन्होंने बताया की संस्था में इन विशेष बच्चों हेतु समेकित शिक्षा का कार्यक्रम चलता है जिसमें दृष्टि दिव्यांग बच्चे भी सामान्य विद्यालयों में सामान्य बच्चों के साथ शिक्षा ग्रहण करते है उन्होंने बताया की संस्था के कई बच्चे बैंको में क्लर्क एवं पी.ओ. के पद पर कार्यरत है जो कि हमारे लिए और समाज के लिए बड़े गर्व की बात है। कार्यक्रम में अध्यक्ष यू.एस. पाण्डेय, उपाध्यक्ष अमिता दूबे, डा0 रमाशंखधर , महासचिव डा0 शशि प्रभा, अवधेश गुप्ता छोटू भी उपस्थित थे।

प्रदेश की धड़कन, 'इंडिया जंक्शन न्यूज़' के ताजा अपडेट पाने के लिए जुड़ें हमारे फेसबुक पेज से...

Check Also

उप्र : पटरी से उतरी फर्रुखाबाद से कानपुर जा रही मालगाड़ी 

लखनऊ| उत्तर प्रदेश के फर्रुखाबाद जिले में शनिवार को एक मालगाड़ी के दो डिब्बे पटरी …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com