Breaking News

नहीं थम रहा पत्रकारों पर हमला ,खतरे में लोकतन्त्र का चौथा स्तम्भ

लखीमपुर- मोहम्मदी आये दिन पत्रकारों पर हमले हो रहे मगर प्रशासन कोई कड़ा कदम उठाने से कतरा रहा है मोहम्मदी गल्ला मंडी में पत्रकार संजय राठौर घटतौली की कवरेज  अपने मोबाईल से कर रहे थे तभी वंहा मौजूद शकील और उनके पुत्र अरमान व अन्य साथियों ने हमला बोल दिया जिससे पीड़ित पत्रकार को चोटे आई है|

 

 

ये भी पढ़े – समाजवादी पार्टी के कार्यकर्त्ता द्वारा पत्रकार पर गोली चलाये जाने के मामले पर पुलिस नहीं कर रही कोई कार्यवाही 

 

पीड़ित ने बताया की कई दिनों से घटतौली की सूचना मिल रही थी जिसको कवर करने के लिए मंडी गया था अपने मोबाईल से वीडियो बना रहा था तभी इन लोगो ने हमला कर दिया और मोबइल छीनकर वीडियो डिलीट कर दिया व पीड़ित पत्रकार का पहचान पत्र भी फाड़ दिया जिसकी सूचना सम्बंधित थाने में की गई मगर किसी तरह की  कोई भी कार्यवाही नहीं की गई| पीड़ित ने बताया की उन लोगो ने झूठा आरोप भी लगाया की जो सरासर गलत है|

 

क्या है पूरा मामला

 

मोहम्मदी गेंहू सेंटरों पर रिश्वतखोरी चरम सीमा पर  है आये दिन किसानो के साथ ठेकेदार अपनी मनमानी से जो भी चाहे वो करते है मजबूर किसान की एक भी नहीं चलती जब किसान अपने अनाज की तौल की बात करता है तो उसे ये बता कर टरका देते है की वरदाना नहीं है जब किसान बारदाना सामने रखा देखकर  बोलता है बारदाना तो है आपके पास है । तो उससे शुल्क माँगा जाता है इसको लेकर किसान के चेहरे पर मायूसी छा जाती है। इसी पूरे मामले की जानकारी लेने के लिए पत्रकार ने मौके पर जाकर कवरेज करनी चाही तो उसे बुरी तरह पीट दिया |

 

 

क्या कहना है उपजिलाधिकारी का

 

 

इन्डिया जंक्शन ने जब पूरे प्रकरण की जानकारी उप जिलाधिकारी से मांगी तो उन्होंने बताया कि घटना निंदनीय है पत्रकार से मारपीट की जानकारी मिलते हीं मौके पर गया था व दोषियों के खिलाफ मुकदमा पंजीकृत का लिया गया है पुलिस जाँच कर रही है अपराधी कोई भी हो बक्शा नहीं जाएगा

 

 

 पियूष मणि अवस्थी, एडिटर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*