मामूली न समझें लो बीपी की समस्या, वजहों को जानें और समय रहते करें इलाज

लाइफस्टाइल डेस्क | बीमारी चाहे कोई भी हो, उसकी जड में कहीं न कहीं तनाव जरूर होता है। जहां स्ट्रेस से कुछ लोगों का ब्लडप्रेशर बढ जाता है, वहीं इससे लो बीपी की भी समस्या हो सकती है। ऐसी स्थिति में मेडिटेशन फायदेमंद होता है। अपनी रुचि से जुडा कोई भी ऐसा कार्य करें, जिससे ब्रेन ऐक्टिव रहे। ऐसी गतिविधियों में भागीदारी बढाएं, जिनसे सच्ची खुशी मिलती हो।

क्यों होता है ऐसा ब्लड प्रेशर
शरीर में पानी की कमी, जिसके कारण लंबे समय तक नॉजिया, वॉमिटिंग या डायरिया जैसी समस्याएं हो जाती हैं। ज्य़ादा एक्सरसाइज, शारीरिक श्रम या लू लगने के कारण भी ऐसा हो सकता है। इससे दृष्टि में धुंधलापन और बेहोशी जैसे लक्षण भी दिखाई देते हैं।

दिल से जुडी बीमारियां
दिल की मांसपेशियां कमजोर होने की स्थिति में भी हार्ट बहुत कम मात्रा में खून को पंप कर पाता है। इससे शरीर में रक्त-प्रवाह धीमी गति से होता है

इन चीज़ों का रखें ध्यान
अगर आपको लो बीपी की समस्या हो तो कभी भी झटके के साथ न उठें। इससे चक्कर आने और गिरने का खतरा रहता है। हमेशा धीरे-धीरे अपने पोस्चर में बदलाव लाएं।

Edited By…Preeti Jaiswal

 

प्रदेश की धड़कन, 'इंडिया जंक्शन न्यूज़' के ताजा अपडेट पाने के लिए जुड़ें हमारे फेसबुक पेज से...

Check Also

बेसन पकौड़े वाली कढ़ी खाकर हो गए हैं बोर तो अब ट्राई करें आलू कढ़ी की ये टेस्टी

लाइफस्टाइल डेस्क | Kadhi Recipe: कढ़ी का स्वाद हर किसी को बेहद भाता है। लेकिन …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com