पत्रकारिता के नाम पर कर रहा था ठगी, ऐसे धरा गया जालसाज!    

दिवाकर गिरि

लखीमपुर खीरी। उत्‍तर प्रदेश में पत्रकारिता के नाम पर जालसाजी का धंधा चलाने वाले तेजी से अपने पैर पसार रहे हैं। इसका ताजा उदाहरण लखीमपुर खीरी में ‘इंडिया जंक्‍शन न्‍यूज’ के नाम पर ठगी के प्रयास का है। दरअसल, एक फर्जी पत्रकार ने हमारे संस्‍थान ‘इंडिया जंक्‍शन’ के नाम पर ही ठगी का प्रयास किया। 25 सितंबर को लखीमपुर खीरी में अभय शुक्‍ला नाम का एक फर्जी पत्रकार पलिया विधायक रोमी साहनी के पास ‘इंडिया जंक्‍शन न्‍यूज’ का 5000 रुपए का फर्जी बिल लेकर पहुंच गया। सिर्फ यही नहीं उसमें 18 प्रतिशत जीएसटी भी लगा दिया था और कुल 5800 रुपए मांगा।

यह भी पढ़ें: किसान विरोधी नए कृषि कानून को SC में चुनौती देगी पंजाब सरकार: मनप्रीत सिंह बादल

जिस समय यह फर्जी पत्रकार विधायक रोमी साहनी के आवास पर पहुंचा, विधायक लखीमपुर में न होकर लखनऊ में मौजूद थे। विधायक को आवास पर न पाकर इस फर्जी पत्रकार ने उनके कार्यकर्ताओं से जबरन वसूली करने की कोशिश करने लगा। इस फर्जी पत्रकार का भंडाफोड़ तब हुआ, जब विधायक रोमी साहनी के कार्यकर्ताओं ने ‘इंडिया जंक्‍शन न्‍यूज’ के आधिकारिक पत्रकार दिवाकर गिरि को मौके पर बुलाया। इस जालसाज ने अपने बिल में ‘इंडिया जंक्‍शन न्‍यूज’ के ऑफिस का पता लखनऊ में कोछला चौराहा डाला था, जो कि राजधानी में है ही नहीं।

विधायक रोमी साहनी ने संस्‍थान के संपादक से ली जानकारी  

इसके बाद विधायक रोमी साहनी ने ‘इंडिया जंक्‍शन न्‍यूज’ के संपादक पियूष मणि अवस्‍थी को खुद फोन करके इस बारे में पूछा तो संपादक ने ऐसी कोई भी बात होने से साफ इनकार कर दिया। फिर संस्‍थान के संपादक ने वीडियो कॉलिंग के माध्‍यम से उस फर्जी पत्रकार से बातचीत की तो उसने संपादक को पहचानने से ही इनकार कर दिया। तब उसके असली जालसाजी के काम का पर्दाफाश हुआ और ये भी तभी पता चला कि अभय शुक्‍ला नाम के इस फर्जी पत्रकार का असली नाम समीर है।

जालसाज के खिलाफ गोला कोतवाली में एफआईआर दर्ज

हालांकि, ये सब विधायक रोमी साहनी के आवास पर हुआ तो उसे वहां से जाने के लिए बोल दिया गया। मगर, संस्‍थान के पत्रकार दिवाकर गिरि ने गोला कोतवाली में इस फर्जी पत्रकार के खिलाफ एफआईआर दर्ज करवाई और पुलिस मामले की जांच में जुट गई है। इसके बाद संस्‍थान के संपादक को कई लोगों के कॉल्‍स भी आए और धमकाने की कोशिश की गई। मगर, जवाब में उन्‍होंने कहा कि मुझे डराने-धमकाने की कोशिश न करें क्‍योंकि हम डरने वाले नहीं हैं। बल्कि और प्रमुखता के साथ ऐसे ठगों और जालसाजों का पर्दाफाश करेंगे।

मगर, बड़ा सवाल यह है कि इन फर्जी पत्रकारों पर शिकंजा कब कसा जाएगा, जो प्रतिष्ठित संस्‍थानों के नाम पर जालसाजी और ठगी जैसे कारनामों को अंजाम देते हैं। हम आपसे से यही अपील करते हैं कि अगर आपके पास ऐसा कोई शख्‍स आता है, जो हमारे संस्‍थान के नाम पर पैसों की मांग करता है तो पहले हमसे संपर्क कीजिए। आप ऐसे ठगों और जालसाजों से सतर्क और सावधान रहें।

प्रदेश की धड़कन, 'इंडिया जंक्शन न्यूज़' के ताजा अपडेट पाने के लिए जुड़ें हमारे फेसबुक पेज से...

Check Also

ऋषिकेश: अमेरिकी महिला को भारी पड़ा अश्लील वीडियो शूट करवाना,पुलिस ने की यह कारवाई 

उत्तराखंड। ऋषिकेश में शानिवार एक अजीबोगरीब किस्सा देखने को मिला।हम बात कर रहे हैं.लक्ष्म झूला …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com