sdr

सहारा अस्पताल पर महिलाओं के शव बदलने के मामले पर FIR दर्ज

 

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में बीते 11 फरवरी को गोमतीनगर स्थित सहारा अस्पताल में इशरत मिर्ज़ा के शव के दाह संस्कार के मामले में विभूतिखंड पुलिस ने सहारा अस्पताल प्रबंधन और स्टॉफ के खिलाफ एफआईआर की है। मृतक इशरत मिर्जा के बेटे एजाज हैदर ने शव बदलने के मामले व धार्मिक भावना को आहत करने के आरोप में विभूतिखंड थाने में रविवार को एफआईआर कराई हैं। सहारा अस्पताल प्रबंधन और स्टॉफ के खिलाफ आईपीसी की धारा 297 में एफआईआर (FIR) दर्ज कर ली है।

 

इंस्पेक्टर विभूतिखंड राजीव द्विवेदी के मुताबिक शव से छेड़छाड़ की धारा में दर्ज हुई है एफआईआर। अलीगंज सेक्टर जे निवासी इशरत मिर्जा को उनके परिवारीजनों ने इलाज के लिए छह फरवरी को सहारा अस्पताल में भर्ती कराया था। इसी अस्पताल में इलाज के दौरान इशरत की 11 फरवरी को मौत हो गई थी। मौत के बाद बेटी रिम्मी मिर्जा और दामाद ने शव को मॉर्च्यूरी में रखवा दिया गया था। मृतका इशरत मिर्ज़ा के बेटे एजाज हैदर ने बताया इशरत मिर्ज़ा का शव गोमतीनगर के गर्ग परिवार को दे दिया था, जिसके बाद गर्ग परिवार ने हिंदू रीति रिवाज के मुताबिक दाह संस्कार कर दिया। आरोप है कि अस्पताल प्रबंधन द्वारा उनकी मां के शव का अपमान किया गया। इससे उनकी धार्मिक भावनाएं आहत हुई हैं।

 

यह भी पढ़ें :- यूपी बोर्ड परीक्षा 2020: 10वीं-12वीं की परीक्षाएं कल से शुरू, देखें डिटेल्‍स

 

इस मामले में परिवार ने अस्पताल प्रबंधन पर लापरवाही का आरोप लगाया था, लेकिन यहां चौंकाने वाली बात ये है कि गर्ग परिवार ने भी शव को देखने की जहमत नहीं उठाई, ताकि पता चल सके कि जिसकी बॉडी वे लेकर आए हैं उनके परिवार की है भी के नहीं। बिना शव को देखे ही गर्ग परिवार ने उनका दाह-संस्कार कर दिया।

प्रदेश की धड़कन, 'इंडिया जंक्शन न्यूज़' के ताजा अपडेट पाने के लिए जुड़ें हमारे फेसबुक पेज से...

Check Also

कोरोना: लखनऊ सहित UP के 16 जिले लॉकडाउन, 25 मार्च तक आदेश

लखनऊ। देश से लेकर प्रदेश तक तेजी से फैल रहे कोरोना वायरस के संक्रमितों की …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com