चारो दोषियों को बीच चौराहे पर होनी चाहिए फांसी : पवन जल्लाद

 

मेरठ। दिल्ली बस में निर्भया सामूहिक बलात्कार के चारो दोषियों की फांसी की तारीख मुकर्रर हो गई है। इन चारो दोषियों की फांसी 22 जनवरी की सुबह सात बजे तिहाड़ जेल में दी जाएगी। इन चारो दोषियों को फांसी पर लटकाने का काम पवन जल्लाद करेंगे, वही सबकी नजरे पवन पर टिकी हुई है। क्योंकि पवन जल्लाद चारों दोषियों के लिए साक्षात यमराज की भूमिका में होगा।

 

 

जब इस फांसी को लेकर पवन जल्लाद से पूछा गया कि क्या ऐसे गुनहगारों को सार्वजनिक तौर पर फांसी दी जानी चाहिए तो इसपर उन्होंने बताया कि उसकी व्यक्तिगत भावना है कि ऐसे गुनहगारों को बीच चौराहे पर सूली पर चढ़ा देना चाहिए। ये भी कहा कहा कि न्यायपालिका जो कर रही है, अच्छा कर रही है।

 

पवन ने कहा है कि वो तिहाड़ जेल जाकर दोषियों को फांसी देने के लिए बेताब हूं। वही मेरठ जिला कारागार में पवन जल्लाद की हाजिरी लगातार लग रही है और ये 15 जनवरी तक रोज हाजरी लगेगी। जल्लाद के शहर के बाहर जाने पर भी फिलहाल जेल प्रशासन की तरफ से रोक लगा दी गई है। सूत्रों के मुताबिक पवन को बताया गया है कि फांसी लगवाने की एवज में दिल्ली सरकार उसे मानदेय देगी। खबर है कि 15 जनवरी को सरकार पवन जल्लाद को फांसी की रिहर्सल के लिए दिल्ली बुला ले। वरिष्ठ जेल अधीक्षक का कहना है कि पवन को फांसी की पूरी जानकारी है लेकिन फिर भी रिहर्सल करना जरुरी है।

 

प्रदेश की धड़कन, 'इंडिया जंक्शन न्यूज़' के ताजा अपडेट पाने के लिए जुड़ें हमारे फेसबुक पेज से...

Check Also

40 की उम्र में काम्या फिर बनीं दुल्हन, देखे पहली तस्वीरें

  काम्या पंजाबी जो की एक जानी मानी टीवी एक्ट्रेस हैं। वे शलंभ डांग के …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com