प्रतीकात्मक तस्वीर

पाकिस्‍तान में महंगाई की मार, पहली बार सोने की कीमत 1 लाख के पार

वर्ल्‍ड डेस्‍क। पाकिस्‍तान में महंगाई से हाहाकार मचा हुआ है। देश महंगाई से बेहाल है। यहां सोने के दाम अब तक के सबसे उच्चतम स्तर पर पहुंच गए हैं। पाकिस्तानी अखबार डॉन के अनुसार, गुरुवार को घरेलू बाजार में सोने की कीमतें 105,200 रुपये (पाकिस्तानी रुपया) प्रति तोला हो गई है। इससे पहले 24 जून को भी सोने के दाम रिकॉर्ड स्तर पर 105,100 रुपये प्रति तोला हो गए थे।

यह भी पढ़ें: चीनी एप्स प्रतिबंध पर रविशंकर प्रसाद ने कह दी इतनी बड़ी बात

एएसएसजेए के अध्‍यक्ष हाजी हारुन रशीद चंद कहते हैं कि अब पाकिस्तान में सोना खरीदना आम आदमी के बस से बाहर हो चुका है क्योंकि आम आदमी के लिए रोजाना के खर्चों को उठाना ही मुश्किल हो रहा है। वहीं, पाकिस्तान की स्थिति को लेकर जारी अनिश्चितता के चलते विदेशों से इन्वेस्टमेंट नहीं आ रहा है।

सोने की कीमतें बढ़ने का कारण

कोविड-19 के कारण अंतरराष्ट्रीय स्तर पर बढ़ रही कीमतों का असर घरेलू बाजार पर दिख रहा है। ऐसे में पाकिस्तान के जेम्स एंड ज्वेलरी सेक्टर को बड़ा नुकसान हो रहा है। साथ ही, अंतरराष्ट्रीय स्तर पर उनके पुराने ऑर्डर्स की पेमेंट भी फंस गई है। ऑल पाकिस्तान जेम्स ज्वैलर्स ट्रेडर्स एंड एक्सपोर्टर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष मुहम्मद अख्तर खान टेसोरी ने वाणिज्य मंत्रालय को सूचित किया कि 120 दिनों के भीतर देश से निर्यात होने वाली ज्वेलरी की पेमेंट मिलनी चाहिए।

यही नहीं, हाजी हारुन रशीद चंद के अनुसार, घरेलू गोल्ड मार्केट के लिए सबसे बड़ी टेंशन फेडरल बोर्ड ऑफ रेवन्यू यानी एफबीआर की ओर से सोने की ज्वैलरी की बिक्री पर लगाए गया भारी टैक्स है। इसकी वजह से देश में डिमांड नहीं बची है। पिछले दिनों से कई दुकानें भी पाकिस्तान में बंद हुई हैं। हम अगले कुछ दिनों में दुकानें बंद कर सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन करेंगे।

प्रदेश की धड़कन, 'इंडिया जंक्शन न्यूज़' के ताजा अपडेट पाने के लिए जुड़ें हमारे फेसबुक पेज से...

Check Also

सुपुर्द-ए-खाक हुए मशहूर शायर राहत इंदौरी

इंदौर। वैश्विक महामारी कोरोना वायरस से संक्रमित मशहूर शायर राहत इंदौरी मंगलवार को दिल का दौरा …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com