अंतरिक्ष केन्द्र से सफलतापूर्वक प्रक्षेपित किया गया जीसैट-31

चेन्नई: भारत के 40वें संचार उपग्रह जीसैट-31 काे बुधवार सुबह फ्रेंच गुयाना के कोरू अंतरिक्ष केन्द्र से सफलतापूर्वक प्रक्षेपित किया गया। प्राप्त रिपोर्ट के मुताबिक बुधवार तड़के दो बजकर 31 मिनट पर एरियन-5 रॉकेट ने अंतरिक्ष के लिए उड़ान भरी और प्रक्षेपण के करीब 42 मिनट बाद जीसैट-31 को सफलतापूर्वक उसकी भूस्थैतिक कक्षा में स्थापित कर दिया।

जीसैट भारत का नवीनतम संचार उपग्रह है जिसका निर्माण भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ने किया है। जीसैट का वजन 2,535 किलोग्राम है और यह कम से कम 15 वर्षों तक केयू-बैंड में संचार सेवाएं देगा। जीसैट-31 भारतीय अंतरिक्ष कार्यक्रम की महत्वाकांक्षी परियोजना है जो उपमहाद्वीप में डिजिटल खाई पाटने में मदद करेगा।
इसरो के मुताबिक जीसैट-31 अरब सागर, बंगाल की खाड़ी और हिंद महासागर के विशाल समुद्री क्षेत्र के ऊपर संचार की सुविधा को मजबूत करेगा।
जीसैट-31 भूस्थैतिक कक्षा में केयू बैंड ट्रांसपोंडर की क्षमता को भी मजबूत करेगा।

प्रदेश की धड़कन, 'इंडिया जंक्शन न्यूज़' के ताजा अपडेट पाने के लिए जुड़ें हमारे फेसबुक पेज से...

Check Also

सोनिया का मोदी पर तीखा हमला, बताया “ब्लफ़मास्टर”

मोदी सरकार पर बड़ा हमला  करते हुए कांग्रेस नेता सोनिया गांधी ने बुधवार को कहा …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com