सरकारी लापरवाहियों के चलते कर्मचारियों को गवाने पड़े हाथ पैर

ये भी पढ़े – शहर के सेक्टर 10 में देर रात दो लडकियाँ नशे के हालत में भिड गई

जिले में बिजली विभाग की लापरवाही से संविदाकर्मी को जिंदगी भर का ऐसा दर्द मिल गया, जिसकी भरपाई कोई नहीं कर सकता। महेवाजोत माली का रहने वाला रामनयन बिजली विभाग में कई वर्षों से संविदाकर्मी के पद पर काम कर रहा है. वह विक्रमजोत ब्लॉक के वीरपुर खरहरा में 33/11 केवी विद्युत उपकेंद्र पर कार्यरत था.
22 मई 2018 को चौकडी टोलप्लाजा के पास जेई अखिलेश यादव के कहने पर ट्रांसफार्मर बदलने गया था. इसके लिए बिजली की सप्लाई बंद कर दिया गई थी. अचानक बिजली सप्लाई चालू कर दी गई. खंभे पर चढ़कर क्लैंप खोलने का काम कर रहा रामनयन करंट की चपेट में आकर बुरी तरह से झुलस गया.
सप्लाई बंद करवाने के लिए जब संबंधित फीडर पर फोन किया गया तो वहां किसी का फोन नहीं उठा. कुछ देर बाद हर्रैया के मेन फीडर से लाइन को बंद कराया गया। घायल रामनयन को पोल से उतारकर इलाज के लिए भेजा गया. घायल की गंभीर हालत को देखते हुए उसे लखनऊ भेज दिया गया.

इस तरह से शुरु हुआ सड़ना

तीन हफ्ते बाद दोनों हाथ में सड़न शुरू हो गई. इसके चलते रामनयन का एक हाथ कंधे से और दूसरा हाथ कोहनी से काट दिया गया. विभाग ने रामनयन को अब तक किसी तरह की कोई सहायता राशि नहीं दी है. घायल के पिता जयराम खेत गिरवी रखकर बेटे का इलाज करा रहे हैं. बिना सुरक्षा उपकरणों के काम करवाने और दुर्घटना होने पर मुंह फेर लेने पर बिजली की कार्यशैली पर गहरे सवाल उठते हैं.

मामला डीएम राजशेखर के संग्यान में आने पर उन्होंने बिजली विभाग से इसकी जानकारी हासिल ली. डीएम ने कहा कि रामनयन की जो भी मदद होग सकेगी, की जायेगी. मामले में दोषी बख्से नहीं जाएंगे. फिलहाल छावनी पुलिस पिछले चार माह से मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच कर रही है. इसका परिणाम आज तक नहीं आ पाया है.

 

Check Also

मिलावटी खून से कई मरीजों की गई जान !

लखनऊ। यूपी की राजधानी लखनऊ में 25 अक्टूबर को खून में मिलावट कर बेचने का …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com