लखनऊ में उपद्रवियों के पोस्टर लगाए जाने पर HC सख्‍त, पुलिस कमिश्नर और डीएम तलब

प्रयागराज। 19 दिसंबर 2019 को राजधानी लखनऊ में नागरिकता संशोधन कानून को लेकर हुए हिंसक प्रदर्शन के मामले में आरोपियों के पोस्टर लगाए जाने को लेकर इलाहाबाद हाईकोर्ट ने आज रविवार को सुनवाई 3 बजे तक के लिए टाल दी हैं। कोर्ट ने यूपी के महाधिवक्‍ता (एडवोकेट जनरल) के न पहुंच पाने की वजह से सुनवाई टाल दी हैं।

 

लखनऊ में उपद्रवियों के लगाए गए पोस्टर के मामले में इलाहाबाद हाईकोर्ट ने इस मसले पर खुद संज्ञान लेते हुए सुनवाई का बड़ा फैसला लिया है। चीफ जस्टिस गोविन्द माथुर ने इस मामले में लखनऊ के पुलिस कमिश्नर सुजीत पांडे और डीएम अभिषेक प्रकाश को आज तलब कर दिया है। इन दोनों को आज रविवार सुबह 10 बजे कोर्ट में पेश होने का आदेश दिया गया था, कोर्ट ने यूपी सरकार से स्पष्टीकरण मांगा है।

 

 

यह भी पढ़ें: CAA: उपद्रवियों की होर्डिंग्‍स देख भड़के आप प्रवक्‍ता, कह दी इतनी बड़ी बात

लखनऊ के डीएम और डिविजनल पुलिस कमिश्नर को कोर्ट ने रविवार सुबह 10 बजे हाईकोर्ट को यह बताने का निर्देश दिया है कि कानून के किस प्रावधान के तहत इस प्रकार का पोस्टर लगाया जा रहा है। आपको बता दे कि रविवार को छुट्टी होने के बाद भी आज दालत सुनवाई करेगी। कोर्ट ने कहा है कि पोस्टर्स में इस बात का कहीं जिक्र नहीं है कि किस कानून के तहत पोस्टर्स लगाए गए हैं। हाईकोर्ट का मानना है कि पब्लिक प्लेस पर सम्बंधित व्यक्ति की अनुमति बिना उसका फोटो या पोस्टर लगाना गलत है और यह राइट टू प्राइवेसी का उल्लंघन है।

प्रदेश की धड़कन, 'इंडिया जंक्शन न्यूज़' के ताजा अपडेट पाने के लिए जुड़ें हमारे फेसबुक पेज से...

Check Also

अब कोविड अस्पतालों में रख सकेंगे मोबाइल, यूपी सरकार ने वापस लिया फैसला

लखनऊ। उत्‍तर प्रदेश सरकार ने कोविड अस्पतालों में मोबाइल रखने पर प्रतिबंध लगाने का अपना …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com