Breaking News

जाने केला कैसे नुकसानदायक है आपके लिए …..

आपको पता है क्या  केला खाने से भी आपके शरीर को नुकसान पहुंच सकता है? पोटेशियम, कार्बोहाइड्रेट, फाइबर और एनर्जी से भरपूर ये फल भी आपके सेहत के लिए खतरनाक हो सकता है? लेकिन ये सच है. एसिडिटी, डायरिया, ब्लड प्रेशर, कैंसर, सीने में दर्द, एनिमिया, अनिद्रा, दाद-खाज, डायबिटीज़ और अल्सर जैसी कई परेशानियों राहत देने वाला केला भी नुकसानदायक हो सकता हैं.

ये भी पढ़े -केला आपकी सेहत के साथ साथ आपकी त्वचा से जुड़ी कई समस्याएं में भी है लाभदायक…

जानें केले से होने वाले नुकसानों या साइड इफेक्ट्स के बारे में –

दांतों का सड़ना 

केले में भारी मात्रा में स्टार्च मौजूद होता है जो दांतों की सेहत के लिए अच्छा नहीं. कई रिसर्च में यह खुलासा हुआ है कि चॉकलेट और चुइंगम से ज्यादा दातों को नुकसान केले से होता है. क्योंकि केले में मौजूद स्टार्च मुंह में घुलने में वक्त लेता है, जिस वजह से दांतों में कैविटी का खतरा बढ़ जाता है.

 

माइग्रेन

अगर आपको बार-बार माइग्रेन अटैक्स आते हैं तो केला अपनी डाइट में आज ही हटा दें. क्योंकि केले में टायरामाइन नामक पदार्थ पाया जाता है, जिससे माइग्रेन का दर्द बढ़ता है. वहीं, केले के छिलके में गूदे से 10 गुना ज़्यादा टायरामाइन पाया जाता है. अगर इसे आप खा भी रहे हों तो इसके छिलके के साथ मौजूद रेशों को भी अच्छे ने निकाल कर खाएं.

 

नर्व्स करे डैमेज

केला में भरपूर मात्रा में विटामिन बी6 होता है. केले का ज़्यादा सेवन करने से नर्व्स डैमेज का खतरा बढ़ जाता है. जो लोग रोज़ाना वर्कआउट करते हैं उन्हें इससे खतरा नहीं लेकिन एक्सरसाइज़ ना करने वालों को ज़्यादा केले खाने से बचना चाहिए.

 

 कब्ज 

अब तक आपने सुना होगा कि केला खाने से पेट अच्छे से साफ होता है, लेकिन आपको बता दें इसके सेवन से कब्ज का खतरा भी बढ़ जाता है. क्योंकि इसमें मौजूद टैनिट एसिड पाचन तंत्र पर असर करता है.  वहीं, अच्छे से पका हुआ केला कब्ज में राहत देता है.

 

पेट में दर्द

क्योंकि केले में स्टार्च होता है इसी वजह से इसे पचाने में वक्त लगता है. कई बार इसी कारण से पेट में दर्द की शिकायत होती है. ये शिकायत तब भी होती है जब केला अच्छे से पका ना हुआ हो और आप उसका सेवन करें. पेट में दर्द के साथ-साथ उलटी जैसा मन भी हो सकता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*