Breaking News

HWL : भारत को यह मैच हर हाल में जीतना क्यों जरुरी

हॉकी वर्ल्ड लीग फाइनल (एचडब्ल्यूएल) के अपने दूसरे मुकाबले में भारत को इंग्लैंड के हाथों 2-3 से हार मिली. भारत ने अपने पहले मैच में ऑस्ट्रेलिया को 1-1 की बराबरी पर रोका था. भारत अब जर्मनी के खिलाफ 4 दिसंबर को अपना अंतिम पूल मैच खेलेगा. अगले दौर में जगह बनाने के लिए भारत को यह मैच हर हाल में जीतना होगा. इसी दिन पूल-बी में इंग्लैंड का सामना ऑस्ट्रेलिया से होगा. जर्मनी ने अपने दूसरे मैच में ऑस्ट्रेलिया को 2-2 की बराबरी पर रोका. शनिवार को ही स्पेन ने नीदरलैंड्स को 3-2 से हराया, जबकि पूल-ए में ही बेल्जियम ने अर्जेटीना को 3-2 से मात दी.

ये भी पढ़े ~ गुड़ क्यों हैं शरीर के लिए Good, जाने इसके फायदे

दूसरे क्वार्टर की समाप्ति तक इंग्लैंड ने भारत पर 2-0 की बढ़त ले रखी थी, लेकिन भारत ने आकाशदीप सिंह और रुपिंदर पाल सिंह के गोलों की मदद से 50वें मिनट में 2-2 की बराबरी कर ली. हालांकि इंग्लैंड ने 57वें मिनट में गोल करते हुए अंतर पैदा कर दिया. इंग्लैंड के लिए मैच का पहला गोल डेविड गुडफील्ड ने 25वें मिनट में किया। यह एक फील्ड गोल था. इसके बाद सैम वार्ड ने 43वें मिनट में किए गए एक और फील्ड गोल की मदद से इंग्लैंड को 2-0 से आगे कर दिया.

यहां से भारत की मुश्किल शुरू होती दिख रही थी, लेकिन घरेलू प्रशंसकों की हौसलाअफजाई के बीच भारतीय खिलाड़ियों ने शानदार वापसी की और 47वें मिनट में पहला गोल किया. यह गोल आकाशदीप ने किया. आकाशदीप का यह गोल पेनल्टी कॉर्नर पर आया. इसके तीन मिनट बाद ही भारत के लिए रुपिंदर ने एक बेहतरीन फील्ड गोल करते हुए स्कोर 2-2 कर दिया. ऐसा लगा कि भारत वापसी करते हुए इंग्लैंड को अंक बांटने पर मजबूर कर देगा, लेकिन वार्ड ने 57वें मिनट में एक बेहतरीन फील्ड गोल कर इंग्लैंड को एक बार फिर आगे कर दिया.

ये भी पढ़े ~ क्राइम ब्रांच : अवैध हथियारों के साथ 4 शातिर बदमाश गिरफ्तार

अंतिम मिनट में इंग्लैंड के पास अपनी बढ़त को दोगुना करने का मौका था, लेकिन भारतीय रक्षापंक्ति ने उसके पेनल्टी कॉर्नर को बेकार कर दिया. भारतीय टीम दो मैचों से एक अंक लेकर पूल-बी में चौथे स्थान पर है. इंग्लैंड के दो मैचो से तीन अंक हैं और वह दूसरे स्थान पर पहुंच गया है. जर्मनी इस पूल में चार अंकों के साथ पहले स्थान पर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*