Breaking News
कर्नाटक विधानसभा

कर्नाटक विधानसभा चुनावी दंगल, अपराधिक उमीदवारों को टिकेट देने में बीजेपी और कांग्रेस दे रही एक दुसरे को टक्कर

कर्नाटक विधानसभा चुनाव को लेकर आज कल राजनीती गलियारे गरमाए हुए है, तो वही 

ये भी पढ़े –  कर्नाटक में एक प्रोग्राम के दौरान पीएम मोदी ने राहुल गाँधी को दी ये चुनौती

एडीआर ने 2,560 उम्मीदवारों द्वारा दायर हलफनामे का विशलेषण करने के बाद यह रिपोर्ट निकाली है। इस रिपोर्ट में कहा गया है कि, 2,560 में से 391 उम्मीद्वारों खुद के खिलाफ आपराधिक मामले घोषित किए हैं।

प्रमुख दलों में भाजपा के 224 उम्मीदवारों में से 83 (37%), इंडियन नेशनल कांग्रेस से 220 उम्मीदवारों में से 59 (27%), जनता दल (सेक्युलर) 199 उम्मीदवारों में से 41 (21%) (जेडी (एस)  जनता दल (संयुक्त) ,जेडी (यू)  से 25 उम्मीदवारों में से 5 (20%), आम आदमी  पार्टी की बात की जाए तो 27 में से 5(19%) उम्मीद्वार दागी बताए गए हैं। रिपोर्ट में कहा गया है कि 1090 स्वतंत्र उम्मीदवारों ने अपने हलफनामे में खुद के खिलाफ आपराधिक मामलों में शामिल होने की घोषणा की है।

नाम पर लगे है गंभीर आरोप 

साथ ही, 254 (10%) उम्मीदवार ऐसे हैं जिन्होंने खुद के खिलाफ गंभीर आपराधिक मामले घोषित किए हैं, चार उम्मीदवारों ने हत्या के मामले में खुद के खिलाफ मामला घोषित किया है (भारतीय दंड संहिता धारा -302) और 25 उम्मीदवारों ने हत्या के प्रयास ( भारतीय दंड संहिता धारा -307)  से संबंधित खुद के खिलाफ मामलों की घोषणा की है। दूसरी तरफ 23 उम्मीदवार ऐसे हैं जिन्होंने महिलाओं के खिलाफ अपराध से संबंधित खुद के खिलाफ मामलों की घोषणा की है।

रेड अलर्ट चुनाव क्षेत्र


रिपोर्ट में कहा गया है कि रेड अलर्ट निर्वाचन क्षेत्र ऐसे निर्वाचन क्षेत्र हैं जिनमें तीन या उससे अधिक उम्मीदवारों पर घोषित आपराधिक मामले दर्ज हैं। रिपोर्ट में कहा गया है कि 2018 के कर्नाटक विधानसभा चुनावों में 56 (25%) रेट अलर्ट निर्वाचन क्षेत्र हैं। एडीआर की रिपोर्ट के अनुसार 35 प्रतिशत विश्लेषित उम्मीदवार करोड़पति हैं। रिपोर्ट के अनुसार 2560 उम्मीद्वारों में से 883 लोग करोड़पति हैं।

प्रमुख दलों  को देखा जाए तो, 224 उम्मीद्वारों में बीजेपी से  208 (93%), इंडियन नेशनल कांग्रेस से 220 उम्मीद्वार हैं जिनमें से 207 (94%), जेडी (एस) के 199 उम्मीद्वारों में से 154 (77%), जेडी (यू) के 25 में से 13(52%), आम आदमी पार्टी (आप) के 27 में से 9 (33%) और 1090 स्वतंत्र उम्मीद्वारों में 199 (18%) उम्मीदवारों ने खुद को करोड़पति घोषित किया हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*