लालू को साढ़े तीन साल की सजा,परिवार और पार्टी को बेल की उम्मीद

चारा घोटाले से जुड़े देवघर कोषागार से 89 लाख, 27 हजार रुपये की अवैध निकासी के मामले में रांची की सीबीआई कोर्ट बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री एवं राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव को साढ़े तीन साल की सजा और पांच लाख रुपये जुर्माने की सजा सुनाई है. लालू प्रसाद यादव जमानत के लिए हाईकोर्ट जाएंगे. इस मामले में अदालत ने फूल चंद, महेश प्रसाद, सुनील कुमार, बांकी जूलियस, सुधीर कुमार और राजा राम को भी साढ़े तीन साल और पांच लाख रुपये जुर्माने की सजा सुनाई है. पूर्व विधायक जगदीश शर्मा को अदालत ने सात साल की सजा और 20 लाख रुपये जुर्माने की सजा सुनाई है.

कौन-कौन है आरोपी

इस मामले में शुक्रवार को लालू, आरके राणा, जगदीश शर्मा एवं तीन वरिष्ठ पूर्व आईएएस अधिकारियों समेत 16 लोगों की सजा के बिन्दु पर अदालत में बहस पूरी हो गयी थी. विशेष अदालत ने 23 दिसम्बर को चारा घोटाले के एक मामले में लालू समेत 16 आरोपियों को दोषी ठहराया था.

 

बेटे तेजप्रताप को हाईकोर्ट में बेल की उम्मीद

चारा घोटाले के एक मामले में लालू यादव को कोर्ट की ओर से सजा सुनाने के बाद उनके बड़े बेटे और पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तेजप्रताप ने कहा कि ‘हमें कोर्ट पर भरोसा है. लालू जी को कोर्ट से बेल जरूर मिलेगा. सामंतवादी ताकत से हम डरने वाले नहीं है. इस फैसले के बाद भी हम मजबूती से लड़ेंगे और सामंतवादी ताकत हमें तोड़ नहीं सकती है. हम पूरी ताकत से लडेंगे. झुकेंगे नहीं.

प्रदेश की धड़कन, 'इंडिया जंक्शन न्यूज़' के ताजा अपडेट पाने के लिए जुड़ें हमारे फेसबुक पेज से...

Check Also

2 नए लोकसभा सांसदों ने हिंदी में ली शपथ

नई दिल्ली| लोकसभा में बुधवार को कांग्रेस और तेलुगू देशम पार्टी (तेदेपा) द्वारा विभिन्न मुद्दों …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com