यूपी में हत्याओं और अन्य मुद्दों को लेकर वकीलों ने की बड़ी हड़ताल, कार्य बहिष्कार

 

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के सभी वकीलों ने आज बुधवार को एक बड़ी हड़ताल की है, इस हड़ताल में प्रदेश भर से करीब साढ़े तीन लाख वकीलों ने हड़ताल की है। यूपी के शहरो में वकीलों की हो रही हत्या और हाल ही में हुई हत्या समेत कई अन्य मांगो को लेकर प्रदेश भर के वकील हड़ताल कर रहे हैं। ये सभी वकील एकजुट होकर हाल के दिनों में हुई हत्याओं को लेकर अपना आक्रोश जताया हैं। वकील अपनी सुरक्षा के लिए राज्य सरकार से जल्द एडवोकेट प्रॉटेक्शन ऐक्ट लागू करने की भी मांग कर रहे हैं।

 

 

यूपी बार काउंसिल के चेयरमैन हरि शंकर सिंह ने वकीलों से जुड़े मुद्दों को लेकर आज गुरुवार को प्रदेश व्यापी हड़ताल का आह्वान किया, जिसे इलाहाबाद हाईकोर्ट बार एसोसिएशन समेत सभी जिला बार एसोसिएशनों ने अपना-अपना समर्थन दिया। आपको बता दे कि प्रदेश भर के वकील इस हड़ताल में वकील न्यायिक कामकाज का पूरी तरह से बहिष्कार करेंगे। यूपी बार काउंसिल के चेयरमैन ने मांग की है कि अधिवक्ताओं की लम्बे समय से सहायता राशि डेढ़ लाख से बढ़ाकर 5 लाख किए जाने की मांग चली आ रही है, जिसे सरकार पूरा करे।

 

नई प्रैक्टिस शुरू करने वाले अधिवक्ताओं को स्टाइपेंड दिए जाने और 60 वर्ष की आयु से ऊपर के वकीलों को पेंशन देने की भी वकीलों ने मांग की है। वकीलों ने शिक्षकों की तर्ज पर ही अधिवक्ताओं के बीच से भी एमएलसी बनाए जाने की भी मांग की है। बार काउंसिल के चेयरमैन ने बताया कि हर वर्ष 40 करोड़ के बजट का प्रावधान है, लेकिन पर्याप्त बजट सरकार से ही नहीं मिलता है।

 

प्रदेश की धड़कन, 'इंडिया जंक्शन न्यूज़' के ताजा अपडेट पाने के लिए जुड़ें हमारे फेसबुक पेज से...

Check Also

UP: सुदीक्षा की मौत मामले में अलग-अलग बयान, NCW ने डीजीपी को लिखा पत्र  

बुलंदशहर। अमेरिका के बोस्टन यूनिवर्सिटी की छात्रा सुदीक्षा भाटी की सड़क हादसे में मौत के …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com