Breaking News

जानिए ऑक्सफोर्ड से पढ़ाई की ये एक्ट्रेस, अब है डॉन की गर्लफ्रेंड, अब जीती है ऐसी लाइफ

बॉलीवुड फिल्म और टीवी एक्ट्रेस मोनिका बेदी की जिंदगी किसी सस्पेंस और एक्शन से भरपूर फिल्म से कम नहीं रही हैं. जि हां एक ऐसी लड़की जिसने पंजाब के होशियारपुर से अपना सफर शुरू किया और मायानगरी में ऊंचा मुकाम भी हासिल किया. लेकिन इनकी तकदीर को तो कुछ और ही मंजूर थी, और आज वो बन बैठी डॉन अबू सलेम की गर्लफ्रेंड.

 

 

जि हां उसके बाद इनकी जिंदगी ही बदल गई और ग्लैमर की चकाचौंध से भरी लाइफ को अपराध की काली नजर लग गई. आज मोनिका का जन्मदिन है. मोनिका ने 1995 में फिल्मी करियर की शुरुआत की थी. उन्होंने ढेर सारी फिल्में की लेकिन ‘जोड़ी नं.1’ ही यादगार रही. 2002 में उन्हें अबू सलेम के साथ पुर्तगाल में गिरफ्तार भी किया गया था.

 

ये भी पढ़े ~ अब और एक Yo Yo Honey Singh का धमाकेदार गाना ‘छोटे छोटे पेग’ हुआ OUT

 

 

 

उनकी पहचान अबू सलेम की गर्लफ्रेंड के तौर पर हुई, जिसका फर्जी पासपोर्ट था. उन्होंने कोर्ट केस झेले और जेल में भी रहीं. इन सबके बावजूद उन्होंने 2013-14 में टीवी सीरियल ‘सरस्वतीचंद्र’ सीरियल से दोबारा करियर की शुरुआत भी की. आइए जानते हैं उनके बारे में कुछ खास बातें….

 

 

पंजाब के होशियारपुर में मोनिका का जन्म हुआ. उनके पिता डॉक्टर थे. उनके माता-पिता 1979 में नॉर्वे जाकर रहने लगे और मोनिका ने ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी से साहित्य की पढ़ाई की. मोनिका ने अपने फिल्मी करियर की शुरुआत तेलुगु फिल्म ‘ताजमहल’ से की थी. फिल्म को डी. रामानायडु ने डायरेक्ट किया था और फिर मोनिका ने 1995 में ‘सुरक्षा’ के साथ बॉलीवुड में डेब्यू किया.

 

 

ये भी पढ़े ~ Bigg Boss 11 के बाद अब अर्शी खान इस एक्शन रियलिटी शो में दिख सकती हैं

 

 

 

मोनिका बेदी ने डेविड धवन के साथ भी उनकी फिल्म ‘जोड़ी नं-1 (2001)’ में काम किया था. वे सुपरस्टार संजय दत्त के अपॉजिट नजर आई थीं. उनसे काफी उम्मीदें जगी थीं, और माना जा रहा था कि उनका करियर काफी आगे तक जाएगा. लेकिन इसके एक साल बाद ही सबकुछ बदल गया.

 

 

2014 के दोरान एक इंटरव्यू में मोनिका ने बताया था कि अबू से उनका संपर्क फोन के जरिए हुआ था. उस वक्त वे दुबई में थीं और उसने अपना परिचय किसी दूसरे नाम से बिजनेसमैन के तौर पर करवाया था. उन्हें अबू की आवाज से प्यार हो गया था. करीब 9 महीनों तक फोन पर बात करने के बाद मोनिका अबू से मिलने दुबई गईं वहां उसने बताया कि उसका असली नाम अबू सलेम है. मोनिका के मुताबिक उस वक्त उन्हें नहीं पता था कि अबू सलेम कौन है. अबू को 1993 में हुए मुंबई बम ब्लास्ट, संगीतकार गुलशन कुमार की मौत का दोषी पाया गया था और वह फरार था.

 

 

ये भी पढ़े ~ ये एक्टर अपने बच्चों के लिए दुबारा दूल्हा बनने चले, जानिए एक बार फिर से करेंगे शादी

 

 

 

अबू और मोनिका को 2002 में पुर्तगाल में फर्जी पासपोर्ट के साथ गिरफ्तार किया गया था. वहां से साल 2005 में दोनों को भारत के हवाले किया गया. अदालत ने मोनिका को फर्जी पासपोर्ट के साथ सफर करने का दोषी पाया और साल 2007 में उन्हें जमानत पर रिहा किया गया. 2010 में सुप्रीम कोर्ट ने मोनिका की सजा बरकरार रखी पर सजा की अवधि घटा दी गई.

 

 

मोनिका बेदी 2008 में ‘बिग बॉस’ के दूसरे सीजन में नजर आईं थी. इसमे मोनिका ने अपना विनम्र और एकदम अलग ढंग का व्यक्तित्व पेश किया जिसे लोगों ने काफी पसंद भी किया. इसके बाद वे कई रियलिटी शोज में नजर आईं. जिनमें ‘झलक दिखला जा’ और ‘देसी गर्ल’ प्रमुख हैं. फिर उन्हें ‘सरस्वतीचंद्र’ में गुमान का किरदार करने को मिला. यही नहीं, उन्होंने पंजाबी फिल्मों में भी हाथ आजमाया हैं.

 

ये भी पढ़े ~ प्रेमियों के अनकहे दर्द को बयाँ करता लक्की राज की आवाज़ में ‘तुम बिन लागे न जिया’: राज महाजन

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*