लखनऊ मेट्रो के प्रबंध निदेषक ने चारबाग से सिंगार नगर तक किया निरीक्षण

 लखनऊ. एल0एम0आर0सी के प्रबंध निदेषक कुमार केषव व डायरेक्टर वक्र्स इंन्फ्राटेक्चर (डीडब्लूआई) दलजीत सिंह व रोलिंग स्टाॅक महेन्द्र कुमार ने आज नार्थ साउथ काॅरिडोर के सबसे बड़े आवागमन वाला चारबाग मेट्रो से निरीक्षण की श्ुारूआत की। प्रवेष द्वार के ग्राउंड फ्लोर पर लगे मषीनों के साथ ही यात्रियों से जुड़े ग्राहक सेवा केंद्र को देखा। यहां से कोई भी यात्री यात्रा से संबधित जानकारी प्राप्त कर सकेगा। वही दूसरी तरफ एल0एम0आर0सी ने मेट्रो यूर्जस के लिए चारबाग स्टेषन पर फ्री वाई-फाई कनिक्विटी उपलब्ध करायी है। ये मषीन प्रवेष द्वार पर लगी है। जिसके पास गो स्मार्ट मेट्रो कार्ड होगे वो कार्डधारक इस मषीन पर कार्ड स्वैप कर मोबाइल व लैपटाॅप पर फ्री इंटरनेट का प्रयोग मेट्रो परिसर के अंदर कर सकेगें। और अन्य मेट्रो स्टेषनों पर इस प्रक्रिया को लगाने का कार्य भी किया जा रहा। इसके साथ एल0एम0आर0सी ने सभी मेट्रो स्टेषन्स पर एक खास तरीके का पानी मषीन लगाया गया है जिसमें सामान्य व्यक्ति के साथ दिव्यांग जन भी इस उपयोग बहुत ही आसानी से कर सकेगें। साथ ही चारबाग मेट्रो स्टेषन पर अन्य मेट्रो स्टेषनो के अपेक्षा यहां सबसे ज्यादा सुरक्षा की दृष्टि से कुल 65 सीसीटीवी कैमरा लगाये गये है और अन्य मेट्रो स्टेषनों पर 45 से 50 सीसीटीवी कैमरा लगाये गये है। और सभी मेट्रो स्टेषन के काॅनकोर्स एरिये में 47 इंच की एलईडी टीवी यात्रियो को जानकारी देने के लिए लगाये गये है।इसके बाद एल0एम0आर0सी एमडी व डायरेक्टर्स ने इस प्रारंभिक खंड मे बने एनईआर से इंटरलिंक दुर्गापुरी मेट्रो स्टेषन का निरीक्षण किया। यहां पर काॅनकोर्स एरियें में सभी उपकरण जहां पूरे लगा लिए गये है। वही एमडी ने यहां पर लगे लिफ्ट को संचालित करवा कर के देखाा जोकि सही से कार्य रहा है। टीम निरीक्षण करते हुए मवैया स्टेषन कृष्णा नगर और अंत मे सिंगारनगर मेट्रो स्टेषन पहुंच कर वहां चल रहे कार्यो को देखा । और साफ सफाई को लेकर कार्यदायी सस्था को विषेष ध्यान रखने बात कही।

प्रदेश की धड़कन, 'इंडिया जंक्शन न्यूज़' के ताजा अपडेट पाने के लिए जुड़ें हमारे फेसबुक पेज से...

Check Also

लखनऊ में समीक्षा अधिकारी परीक्षा शुरू, कुंभ के चलते प्रयागराज में नहीं बने केंद्र

लखनऊ: उप्र लोकसेवा आयोग यानी यूपीपीएससी की आरओ/एआरओ मुख्य परीक्षा 2017 रविवार से शुरू हो गई …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com