लखनऊ: एसएसपी ने SHO को लाइनहाजिर कर लगाई जमकर फटकार

लखनऊ। यूपी की राजधानी लखनऊ में अलीगंज कोतवाली के प्रभारी निरीक्षक को एसएसपी ने शनिवार देर रात बीच सड़क पर 50 से ज्यादा मातहतों के सामने लाइनहाजिर कर दिया। प्रभारी निरीक्षक पर बैचमेट के परिचित से रिश्वत मांगने का आरोप है। रिश्वत मांगने की शिकायत से एसएसपी इतने नाराज थे कि उन्होंने प्रभारी निरीक्षक आनंद शुक्ला को गाड़ी और सीयूजी नंबर छीन लिया और पैदल ही कपूरथला से पुलिस लाइंस जाने को कह दिया।

जिस सिपाही पर रिश्वत मांगने का आरोप लगा था, उसे भी उसी समय लाइनहाजिर कर दिया गया। इसके अलावा एएसपी ट्रांसगोमती हरेंद्र कुमार समेत कई अफसरों को बीच सड़क पर जमकर फटकार लगाई।

यह भी पढ़ें- एक और बाबा के खिलाफ धोखाधड़ी और पैसे ऐंठने का आरोप

 

एसएसपी ने एसओ से कहा, ‘आप लाइंस में जाकर आमद करवाइए… आरआई से बोलिए, आप लाइनहाजिर हो गए हैं। चीता पुलिस को इन्फॉर्म करके पैदल जाइए… जैसे जाइए पर यहां से तुरंत चले जाइए। थाने के मोबाइल से भी बात नहीं करनी है।’

दरअसल, राजधानी में दिन-ब-दिन बिगड़ रही कानून व्यवस्था को देखते हुए एसएसपी कलानिधि नैथानी  शनिवार देर रात थानों के औचक निरीक्षण के लिए निकले थे। इस दौरान कई चौकी इंचार्ज ड्यूटी से गायब मिले। यह देख एसएसपी ने अलीगंज, महानगर और हसनगंज कोतवाली के प्रभारियों के साथ सभी निरीक्षकों, एसआई को कपूरथला चौराहे पर तलब कर लिया। सभी प्रभारियों से हाजिरी रजिस्टर दिखाने को कहा गया।

यह भी पढ़ें- ‘क्या करें, मर जाएं हम…फांसी लगा लें’

रजिस्टर चेक करने पर अलीगंज थाने के ज्यादातर पुलिसकर्मी ड्यूटी से नदारद मिले। सभी के खिलाफ गैरहाजिरी की रिपोर्ट अंकित की गई। इस बीच अलीगंज कोतवाली के प्रभारी निरीक्षक आनंद शुक्ला को एसएसपी ने कड़ी फटकार लगाते हुए सावधान की मुद्रा में खड़े होने को कहा। अपने अधिकारियों को सूचित न करने और लापरवाही पर उन्हें तुरंत लाइनहाजिर कर दिया गया। एसएसपी ने उन्हें पैदल ही पुलिस लाइंस जाने का आदेश दिया और सीयूजी नंबर भी जमा करवा लिया गया। बताया जा रहा है कि आईपीएस ट्रेनिंग के दौरान एसएसपी के बैचमेट रहे एक अफसर के परिचित से थाने के सिपाही राहुल तालियान ने 10 हजार रुपये की मांग की थी।

रिश्वत मांगने की जांच एसएसपी ने सीओ अलीगंज दीपक सिंह से करवाई थी। जांच में सिपाही के साथ इंस्पेक्टर भी दोषी पाए गए थे। जिसके बाद एसएसपी ने बीच सड़क पर यह कार्रवाई की। उन्होंने एंटी डकैती सेल प्रभारी फरीद अहमद को अलीगंज इंस्पेक्टर नियुक्त किया है। राजभवन के पास हुए लूटकांड के खुलासे में फरीद अहमद की अहम भूमिका थी। शुक्ला को लाइन हाजिर करने के बाद वहां मौजूद सेकंड मोस्ट सीनियर अफसर के बारे में पूछा। एक मिनट तक नाम न बता पाने पर एसएसपी ने सभी को सुधरने की नसीहत देते हुए सख्त कार्रवाई की बात कही।

Check Also

नीरव मोदी चुकाएगा इन बैंकों के लोन की रकम

नई दिल्ली। पंजाब नेशनल बैंक घोटाले का मुख्य आरोपी नीरव मोदी अभी भी फरार चल …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com