सुशांत केस: CBI जांच को बिहार राज्‍यपाल की मंजूरी, आदित्य ठाकरे ने तोड़ी चुप्‍पी

एंटरटेनमेंट डेस्‍क। बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत के सुसाइड केस की जांच के मामले में बिहार बनाम महाराष्ट्र की राजनीति चरम पर है। बिहार के मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार ने मामले की सीबीआइ जांच की सिफारिश की तो वहीं, राज्‍यपाल ने सीबीआइ जांच को अपनी मंजूरी दे दी।

यह भी पढ़ें: केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान हुए कोरोना संक्रमित, अस्पताल में किया गया भर्ती

वहीं, महाराष्ट्र सरकार में कैबिनेट मंत्री आदित्य ठाकरे ने एक ट्वीट में कहा कि इस मामले में तुच्छ राजनीति की जा रही है, लेकिन मैंने संयम बरता है। मराठी भाषा में किए इस ट्वीट में उन्‍होंने लिखा, देशभर में कोरोना संकट से हाहाकार मचा हुआ है। महाराष्ट्र सरकार इसे हराने में जुटी हुई है। महाराष्ट्र सरकार की लोकप्रियता को देखते हुए अब सियासत के चलते सुशांत सिंह राजपूत का मामला उठाया जा रहा है।

ठाकरे ने ट्वीट में क्या कहा है वो यहां पढ़िए, शब्दश:-

ये तो तुच्छ राजनीति है, पर मैंने संयम बरता है!

देश भर में कोरोना संकट के कारण हाहाकार है। महाराष्ट्र सरकार भी कोरोना को हराने में अपने पूरे सामर्थ्य से जुटी हुई है, जिन लोगों को महाराष्ट्र की वर्तमान सरकार की लोकप्रियता और उसके काम से चिढ़ है। उन्होंने सुशांत सिंह राजपूत के मामले को लेकर गंदी राजनीति करनी शुरू कर दी है।

सुशांत सिंह राजपूत की आत्महत्या के मामले को लेकर व्यक्तिगत रूप से मुझ पर और पूरे ठाकरे परिवार पर कीचड़ उछाला जा रहा है। यह एक तरह से इसके पीछे जो लोग हैं उनकी अपनी राजनीतिक विफलता से उपजी हुई हताशा ही है। किसी की लाश पर रोटियां सेंकने की ये हरकत पूरी मानवता को शर्मसार कर देने वाली है।

मेरा इस पूरे मामले से अंश मात्र भी लेना-देना नहीं है। बॉलीवुड मुंबई का महत्वपूर्ण हिस्सा है। इससे हजारों लोग रोजगार पाते हैं। इसके कई लोगों से मेरे व्यक्तिगत संबंध भी हैं और ऐसा होना कोई गुनाह नहीं। सुशांत सिंह राजपूत की मौत अत्यंत ही दुर्भाग्यपूर्ण और दुखदायक है। मुंबई पुलिस इसकी गहराई से पड़ताल कर रही है और महाराष्ट्र पुलिस की ख्याति पूरी दुनिया में है। लेकिन, कुछ लोग जो मूल रूप से कानून पर भरोसा नहीं करते, वो ही लोग अफवाहें फैला कर और माहौल बिगाड़ कर जांच की दिशा भटकाने का प्रयत्न कर रहे हैं।

मैं हिंदू हृदय सम्राट स्व. बाल ठाकरे का पोता होने के नाते ये बात पूरी जिम्मेदारी से कह रहा हूं कि मेरे हाथ से कभी कोई ऐसा काम नहीं होगा जिससे महाराष्ट्र की, शिवसेना की या ठाकरे परिवार की प्रतिष्ठा पर कोई आंच आए। मिथ्या आरोप लगाने वालों को ये बात अच्छी तरह से समझ लेनी चाहिए। इस पूरे मामले में अगर किसी के पास भी कोई जानकारी या सबूत है तो वो मुंबई पुलिस से संपर्क करे। पुलिस अवश्य ही उस दिशा में जांच करेगी।

मैं इस मामले में आज भी पूरे संयम से ही काम ले रहा हूं। कोई भी इस भ्रम में न रहे कि वो इस प्रकार कीचड़ फेंक कर सरकार या ठाकरे परिवार को बदनाम कर सकेगा। फिलहाल इतना ही!

बिहार सरकार ने की सीबीआइ जांच की सिफारिश

वहीं, बिहार सरकार ने भी मामले की सीबीआइ जांच के लिए अनुशंसा भेज दी है। इसे लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने ट्वीट किया, ‘स्व. सुशांत सिंह राजपूत के पिता श्री केके सिंह द्वारा पटना में स्व. सुशांत सिंह राजपूत की मौत से संबंधित दर्ज कराए गए मामले की सीबीआइ से जांच कराने हेतु राज्य सरकार ने अनुशंसा भेज दी है।’

बिहार और मुंबई पुलिस के बीच तनातनी

बता दें कि सुशांत सिंह राजपूत आत्महत्या के मामले को लेकर बिहार और मुंबई पुलिस के बीच तनातनी बढ़ गई है। मंगलवार को बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने कहा कि मुंबई के अधिकारियों ने अपने फोन बंद कर दिए हैं। हमारे चार अधिकारी मुंबई में छिप गए हैं। उनकी मंशा साफ नहीं है। इस मामले में जब से सुशांत के पिता ने अभिनेत्री रिया चक्रवर्ती के खिलाफ एफआइआर दर्ज करवाई है, तभी से इस मामले में रोज नए-नए खुलासे हो रहे हैं। बिहार पुलिस का आरोप है कि मुंबई पुलिस उन्हें जांच करने से रोक रही है। ये सब देखते हुए सुशांत के पिता ने सीबीआइ जांच की मांग की है।

प्रदेश की धड़कन, 'इंडिया जंक्शन न्यूज़' के ताजा अपडेट पाने के लिए जुड़ें हमारे फेसबुक पेज से...

Check Also

सिल्क छोटी सी उम्र में बनी थीं स्टार, आखिर क्यों लगाई फासीं

  एंटरटेनमेंट डेस्क। साउथ फिल्मों की सबसे मशहूर एडल्ट स्टार सिल्क स्मिता ने 23 सितंबर …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com