शाबाश मलिहाबाद पुलिस! चोरी कहीं और… पीड़ित कोई और

मलिहाबाद। मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ और यूपी पुलिस के मुखिया जहां यूपी पुलिस की अच्‍छी कार्यशैली और मुस्‍तैदी को लेकर बड़े-बड़े दावे करते नहीं थकते तो वहीं, पुलिस के कारनामे इन दावों पर पानी फेर रहे हैं। घटना प्रदेश की राजधानी लखनऊ के मलिहाबाद क्षेत्र की है, जहां गुड वर्क दिखाने के लिए पुलिस ने एक ऐसी मनगढ़ंत कहानी रच डाली जो किसी को भी हैरान कर देगी।

दरअसल, मलिहाबाद के ग्राम भतोइया में एक घर में चोरी हुई, जिसकी FIR दर्ज नहीं हुई और जिस घर में चोरी नहीं हुई उसको जबरन पीड़ित बना दिया गया। असल में, जनपद के ग्राम भतोइया में चोरों ने राकेश कनौजिया नाम के शख्‍स के घर चोरी की वारदात को अंजाम दिया, जिसकी जानकारी पांच जुलाई को हुई। जब राकेश ने इस बारे में पुलिस चौकी जाकर सूचना दी और एफआईआर लिखने की गुहार लगाई तो पुलिस ने एफआईआर नहीं लिखी और वह दौड़ता रहा।

ग्रामीणों ने पकड़ा संदिग्‍ध चोरों को

इस घटना के बाद एक वायरल वीडियो में 28 जुलाई को ग्रामीणों ने एक डाले यानी छोटा हाथी में कुछ संदिग्‍ध लोगों को चोरी में इस्‍तेमाल में किए जाने वाले सामान के साथ पकड़ा और पुलिस को सूचना देकर उनके हवाले कर दिया। उन संदिग्‍धों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया और यहां से शुरू हुआ मलिहाबाद पुलिस का गुड वर्क।

असल में, मलिहाबाद पुलिस ने अपराध व अपराधियों के खिलाफ चलाए जा रहे अभियान के तहत ग्राम भतोइया के किशन कुमार के घर चोरी और फायरिंग की घटना को अंजाम देने वाले 6 चोरों की गिरफ्तारी दिखा दी, जिसके घर चोरी हुई ही नहीं। एक वायरल वीडियो में किशन कुमार अपने घर किसी भी घटना के होने से साफ इंकार कर रहा है तो वहीं मलिहाबाद पुलिस की ओर से जारी प्रेस नोट के मुताबिक, चोरी और फायरिंग की घटना किशन कुमार के घर हुई और रात्रि गस्‍त पर रही पुलिस ने ग्रामीणों की मदद से अपराधियों को पकड़ा। पुलिस ने किशन से जबरन कागज पर अंगूठा भी लगवा लिया, जबकि इन चोरों को तो ग्रामीणों ने पकड़ा था।

जब ग्रामीणों का वायरल वीडियो सामने आया तो पुलिस ने आनन-फानन में दूसरा प्रेस नोट जारी किया, जिसमें रात्रि गस्‍त वाली बात तो हटा दी, लेकिन किशन कुमार के घर चोरी होने वाली बात नहीं हटाई। महिलाबाद पुलिस का उससे भी बड़ा कारनामा ये रहा कि जिस राकेश कनौजिया के घर चोरी हुई थी उसकी FIR 28 जुलाई को लिखी गई और वो भी 25 जुलाई की तारीख दिखाकर। राकेश कनौजिया को बताया गया कि प्रेस नोट में उनके घर की चोरी की बात भी शामिल है।

सांसद कौशल किशोर ने की जांच और कार्रवाई की मांग

वहीं, मलिहाबाद पुलिस के इस कारनामे को मोहनलालगंज से सांसद कौशल किशोर ने दुर्भाग्‍यपूर्ण बताया। उन्‍होंने एक वीडियो में इस मामले की जांच करने और दोषियों को सजा देने की मांग की। उधर, जब इंडिया जंक्‍शन न्‍यूज ने एसपी ग्रामीण से बातचीत की तो उन्‍होंने बताया कि इसकी जांच सीओ महिलाबाद को दी गई है और जल्‍द परिणाम आपके सामने होगा। मगर, मलिहाबाद पुलिस ने ये कारनामा करके अपनी पीठ थपथपा ली लेकिन पुलिस की कार्यशैली पर सवालिया निशान लगा दिए।

प्रदेश की धड़कन, 'इंडिया जंक्शन न्यूज़' के ताजा अपडेट पाने के लिए जुड़ें हमारे फेसबुक पेज से...

Check Also

सर्विलांस सेल टीम द्वारा; 8 लाख 75 हजार रुपये के खोये हुये मोबाइल बरामद ।

जनपद लखीमपुर खीरी जनपद लखीमपुर खीरी मे पुलिस अधीक्षक  विजय ढुल के निर्देशन में सर्विलांस …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com